--Advertisement--

हालात सुधरे / उत्तर भारतीय बोले- हम कहीं नहीं जाएंगे, प्रशासन पर विश्वास



हमें प्रशासन पर पूरा विश्वास। हमें प्रशासन पर पूरा विश्वास।
X
हमें प्रशासन पर पूरा विश्वास।हमें प्रशासन पर पूरा विश्वास।

  • भरोसा दिलाने के लिए पुलिस ने शुरू किया फ्लैगमार्च
  • फिर से काम पर लगे गोलगप्पों की लारी चलाने वाले प्रवासी
     

Dainik Bhaskar

Oct 10, 2018, 01:03 PM IST

 

पालनपुर. राज्य में स्थाई हुए परप्रांतियों का भय दूर करने के लिए प्रशासन मुस्तैद हो चुका है। पुलिस ने फ्लैग मार्च और समझा-बुझाकर लोगों के मन से डर दूर किया है और पर प्रांतीय लोेग फिर से अपने काम में जुट गए है। वे कह रहे है कि हम वापस जाएंगे तो चार से पांच दिनों तक ट्रेन में जगह नहीं मिलेगी। 25 सालों से शहर में ही रह रहे है।


हमें प्रशासन पर पूरा विश्वास: शहर में गोलगप्पे की लारी चलाने वाले परप्रांतीय ने बताया कि हमें प्रशासन पर पूरा विश्वास है। हम यहीं के है। करजण में ठाकोर सेना द्वारा परप्रांतीय से मिलकर उन्हें अपने-अपने व्यवसाय को फिर से शुरू करने की प्रयास किए जा रहे है। अगर कोई भी ठाकोर सेना के नाम से परेशान करता है तो तुरंत ठाकोर सेना का संपर्क करें, इस तरह व्यापार-व्यवसाय फिर से शुरू करने की अपील की जा रही है। जबकि परप्रांतीयों के खिलाफ हिंसा अभी भी खत्म नहीं हुई है। बंद मकानों पर तोड़फोड़: पाटण के खोडीयारपुरा इलाके में परप्रांतीयों के बंद मकान को निशाना साधते हुए तोड़फोड़ की गई। वहीं पालनपुर में अमीर बाग इलाके में एक्सीआई माल गोदाम के 400 मजदूरों के वेतन चले जाने के बाद बोरियां उठाने का कामकाज पूरी तरह ठप हो गया है। 


शहरों में फिर से खुली खाने-पीने की दुकानें: अरवल्ली जिले में पुलिस के प्रयास से और अड़ोस-पड़ोस के सहयोग से मोडासा शहर में एक सप्ताह बाद गोल गप्पे और खाने-पीने के स्टॉल फिर से शुरू हो गए है। 
तकलीफ हो तो फोन करो, पुलिस तुरंत आ पहुंचेगी : परप्रांतीयों पर हमला और धमकियों की घटना के चलते नंदेसरी पुलिस ने नंदेसरी जीआईडीसी इलाके में स्थित कंपनियों में पहुंचकर उन्हें सुरक्षा के आश्वासन दिया जा रहा है। इसके साथ ही कुछ भी तकलीफ होने पर पुलिस को तुरंत फोन करने की अपील की जा रही है। पुलिस तुरंत 10 मिनटों के भीतर आ पहुंचेगी। इस तरह पुलिस द्वारा परप्रांतीयलोगों के मन से डर निकालने का प्रयास किया जा रहा है। 


अहमदाबाद में यूपी के पुजारी और आणंद में बिहार के ड्राइवर पर हमला: गुजरात में यूपी, बिहार और अन्य राज्यों के लोगों पर हमले की घटनाएं मंगलवार को भी हुईं। अहमदाबाद के पॉश क्षेत्र आश्रम रोड पर एक मंदिर के पुजारी पर तलवार से हमला किया गया। वृंदावन-उत्तर प्रदेश निवासी जगदीश भाई दुबे 25 दिनों से उस्मानपुरा स्थित लक्ष्मीनारायण मंदिर में पूजा-पाठ कर रहे हैं। सोमवार रात 10:30 बजे नरेश ठाकोर ने धारदार हथियार के साथ हमला किया। हालांकि शोरगुल सुन कर पहुंचे सुरक्षाकर्मी ने जब हमलावर को काबू करना चाहा तो वह धक्का देकर भाग गया। वाडज थाने के पुलिस इंस्पेक्टर जेआर राठवा ने दावा किया कि इस घटना का गैर-गुजरातियों पर हमले से लेनादेना नहीं है। 


कलेक्टर ने की अपील: आणंद कलेक्टर दिलीप राणा ने बताया कि- जिले के गांव-गांव में वॉट्सएप ग्रुप बना कर गैर-गुजरातियों को लेकर अफवाह न फैलाने की अपील की जा रही है। ईंट भट्टे, निर्माण साइट्स, आवासीय क्षेत्र, खंभात कैमिकल फैक्ट्री और जीआईडीसी सहित फैक्ट्री वाले इलाकों में पुलिस पेट्रोलिंग कर रही है। 

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..