Hindi News »Gujarat »News» Only 2 Rupees Per Day Token Food At Home

केवल 2 रुपए में स्वादिष्ट भरपेट भोजन, घर-पहुंच सेवा भी

जलाराम जनकल्याण सेवा ट्रस्ट द्वारा 6 साल से 100 परिवारों को टिफिन सेवा का लाभ दिया जा रहा है।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 30, 2018, 03:31 PM IST

  • केवल 2 रुपए में स्वादिष्ट भरपेट भोजन, घर-पहुंच सेवा भी
    +2और स्लाइड देखें
    8 लोगों का स्टाफ और 3 रिक्शा किराए पर लेकर रसोई का काम किया जाता है।

    आणंद। भारतीय संस्कृति में भूखे को भोजन कराने की महिमा अपरंपार है। इसे सार्थक कर रहा है आणंद का जनकल्याण सेवा ट्रस्ट। इस ट्रस्ट द्वारा 6 साल से 400 जरूरतमंद और वृद्धों को घर बैठे केवल दो रुपए में टोकन चार्ज लेकर भोजन कराने और पहुंचाने का काम किया जा रहा है। मुस्लिम समाज द्वारा सब्जी की आपूर्ति….

    इस आहार यज्ञ की विशेषता है कि भोजन के लिए अावश्यक वस्तुओं की एडवांस बुकिंग है। इसमें मुस्लिम समाज द्वारा बिना कोई चार्ज लिए सब्जी की आपूर्ति की जा रही है। यहां तैयार टिफिन में एक समय में दो समय का भोजन दिया जाता है। भोजन स्वादिष्ट और गुणवत्तायुक्त है। वृद्धों को ध्यान में रखकर सार के सभी दिन अलग-अलग मेनू रखा गया है। ट्रस्ट के अध्यक्ष महेंद्र भाई पटेल ने बताया कि सबसे पहले हमने 51 जरूरतमंदों का लक्ष्य रखा था। जिसमें अशक्त और वृद्ध शामिल थे। इसकी शुरुआत में ही अच्छा रिस्पांस मिला। तीन रिक्शों को किराए पर लिया गया है, जिसके माध्यम से दिया जाता है क्वालिटी फूड।

    NRI के सहयोग से मिली सफलता

    अध्यक्ष ने बताया कि हम किसी से दान नहीं मांगते। हम पहले कहते हैं कि पहले हमारा काम देखो। फिर कुछ लोगों ने हमारा काम देखा, तो उन्होंने मसाले, गेहूं, चावल, आटा समेत विभिन्न चीजें देना शुरू किया। इसके बाद कुछ एनआरआई ने नकद राशि देनी शुरू की। आज भी हमारा यही नियम है कि दान देने के पहले हमारा काम देख ले।

  • केवल 2 रुपए में स्वादिष्ट भरपेट भोजन, घर-पहुंच सेवा भी
    +2और स्लाइड देखें
    NRI के सहयोग से मिली सफलता।
  • केवल 2 रुपए में स्वादिष्ट भरपेट भोजन, घर-पहुंच सेवा भी
    +2और स्लाइड देखें
    अन्य लोग भी समय-समय पर अनाज की आपूर्ति करत हैं।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×