विरोध / अतिक्रमण तोड़ा, तो रहवासियों ने भाजपा विधायक का किया घेराव



करंज के विधायक प्रवीण घोघारी के कार्यालय पर प्रदर्शन करते प्रभावित लोग।  करंज के विधायक प्रवीण घोघारी के कार्यालय पर प्रदर्शन करते प्रभावित लोग। 
X
करंज के विधायक प्रवीण घोघारी के कार्यालय पर प्रदर्शन करते प्रभावित लोग। करंज के विधायक प्रवीण घोघारी के कार्यालय पर प्रदर्शन करते प्रभावित लोग। 

  • महिलाओं ने थाली बजाकर किया विरोध
  • विधायक गेट बंद कर छिप गए

Dainik Bhaskar

May 17, 2019, 01:58 PM IST

सूरत. वराछा में अतिक्रमण हटाने के दौरान मनपा ने 10 घर तोड़ दिए तो लोग गैस सिलेंडर, चूल्हा-बर्तन और चौका-बेलन लेकर करंज के भाजपा विधायक प्रवीण घोघारी के कार्यालय पहुंच गए। वहां उन्होंने कहा कि आपने विधानसभा चुनाव में वादा किया था कि हमारे घर बचाएंगे, लेकिन हम बेघर हो रहे हैं और आप कुछ नहीं कर रहे हैं। 


कार्यालय में ही छिप गए विधायक
महिलाएं कार्यालय पर ही थाली बजाकर प्रदर्शन करने लगीं तो विधायक कार्यालय का गेट बंद कर अंदर ही छिप गए। वराछा जोन के मनपा अधिकारियों ने गुरुवार को 24 मीटर की टीपी सड़क के निर्माण के लिए अतिक्रमण हटाने गए थे। इसके पहले स्थानीय लोगों को शनिवार को नोटिस देकर घर खाली करने को कहा गया था। नोटिस मिलने के बाद भी विधायक ने उन्हें आश्वासन दिया था कि मनपा अधिकारियों से बात कर कोई रास्ता निकाल लेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और घर तोड़ दिए गए। 


24 मीटर चौड़ी सड़क बनाने के लिए हटा रहे अतिक्रमण 
नेशनल रीवर कंजर्वेशन प्रोजेक्ट के तहत मनपा शहर से गुजरने वाली सभी खाड़ियों के किनारे सड़क बना रही है। इसके तहत वराछा की अर्चना सोसायटी के पास की खाड़ी पर 24 मीटर चौड़ी सड़क बनाने के लिए जमीन अधिग्रहण का काम शुरू किया गया है। इस सड़क को अर्चना सोसायटी के पास से विवेकानंद सोसायटी तक बनाया जाना है। 

 

अभी हम  राहत का कोई वादा नहीं कर सकते 
जिन लोगों के घर तोड़े गए उन्होंने महापौर जगदीश पटेल से राहत देने की मांग की, लेकिन उन्होंने कहा कि मैं इस मामले में किसी भी प्रकार का ठोस वादा नहीं कर सकता। किसी तरह से बीच का रास्ता निकालने के लिए अधिकारियों से बात करेंगे। 


थाली बजाकर महिलाओं ने विधायक को याद दिलाया वादा 
विधायक प्रवीण घोघारी ने प्रभावित लोगों को आश्वासन दिया था कि उनके घर नहीं तोड़े जाएंगे। 60 घरों में से करीब 21 घर के मालिकों ने इस मामले में कोर्ट में गुहार लगाई है। इसमें कोर्ट के आदेश पर उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई। बाकी के लोगों के घरों को तोड़ा गया है। इस पर महिलाएं कार्यालय पर थाली बजाकर भूख हड़ताल पर बैठ गईं। 
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना