• Hindi News
  • Gujarat
  • Politics warms up on alcohol talk, rupani and gehlot in opposite about alcohol

राजकोट / शराब को लेकर दिए बयान पर गरमाई राजनीति, दो सीएम आमने-सामने



अशोक गहलोत और विजय रूपाणी की फाइल तस्वीर अशोक गहलोत और विजय रूपाणी की फाइल तस्वीर
X
अशोक गहलोत और विजय रूपाणी की फाइल तस्वीरअशोक गहलोत और विजय रूपाणी की फाइल तस्वीर

  • गहलोत को विजय रूपाणी का चैलेंज
  • माफी तो रूपाणी को मांगनी चाहिए

Dainik Bhaskar

Oct 09, 2019, 02:04 PM IST

राजकोट. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जब यह कहा कि गुजरात में भले ही शराबबंदी हो, पर वहां घर-घर में शराब पी जाती है। उनके इस बयान पर राजनीति गरमा गई है।

रूपाणी का चैलेंज
गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने गहलोत को चैलेंज किया है कि हिम्मत हो, तो राजस्थान में शराबबंदी करके दिखाएं। फिर उधर से अशोक गहलाेत ने कहा कि अगर गुजरात में सरलता से शराब न मिलती हो, तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा, अगर यह गलत है तो विजय रूपाणी राजनीति छोड़ें।
 

गुजरात को बदनाम करने की साजिश
अशोक गहलोत के बयान पर सीएम रूपाणी ने कहा कि उनके कहने का आशय यह है कि सभी गुजराती शराब पीते हैं। हम सब शराबी हैं। यह बयान गुजरात को बदनाम करने की साजिश है। राजस्थान के सीएम को अपने इस बयान पर माफी मांगनी चाहिए। सीएम ने सख्त लफ्जों में कहा कि कांग्रेसी भी इस बात को समझ लें कि गुजरात को बदनाम करने वालों को माफ नहीं किया जाएगा।
 

रूपाणी को माफी मांगनी चाहिए-मोढवाडिया
शराबबंदी को लेकर अशोक गहलोत की टिप्पणी पर मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को माफी मांगनी चाहिए। ऐसी प्रतिक्रिया देते हुए प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अर्जुन मोढवाडिया ने कहा कि इस मामले पर गुजरात सरकार और  विजय रूपाणी को माफी मांगनी चाहिए।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना