• Hindi News
  • Gujarat
  • Supreme court declines urgent hearing of hardik patel's plea to contest lok sabha

सुनवाई / हार्दिक लोकसभा चुनाव नहीं लड़ सकते, अगली सुनवाई 4 अप्रैल को



हार्दिक पटेल की फाइल तस्वीर हार्दिक पटेल की फाइल तस्वीर
X
हार्दिक पटेल की फाइल तस्वीरहार्दिक पटेल की फाइल तस्वीर

 

  • सुप्रीम कोर्ट ने तात्कालिक सुनवाई करने से इंकार
  • लोकसभा चुनाव का फार्म भरने की आखिरी तारीख भी 4 अप्रैल

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2019, 04:19 PM IST

अहमदाबाद. गुजरात हाईकोर्ट ने हार्दिक पटेल को दोषी मानते हुए विसनगर कोर्ट के फैसले पर स्टे देने से इंकार कर दिया है। इसके बाद हार्दिक सुप्रीम कोर्ट पहुंचे हैं। परंतु मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने उसे झटका देते हुए तात्कालिक सुनवाई करने से इंकार कर दिया है।


अगली सुनवाई 4 अप्रैल को
इस मामले की अगली सुनवाई 4 अप्रैल को होनी है। उल्लेखनीय है कि उसी दिन लोकसभा चुनाव के फार्म भरने की आखिरी तारीख भी है। इससे तय है कि हार्दिक पटेल लोकसभा चुनाव नहीं लड़ सकते।


क्या है विसनगर मामला
2015 में पाटीदार आरक्षण आंदोलन के समय हार्दिक पटेल समेत पाटीदार नेताओं ने विसनगर के तत्कालीन विधायक ऋषिकेश पअेल को आवेदन देने के लिए गए थे। उस समय वहां 5 हजार लोग उपस्थित थे। इस दौरान भीड़ अनियंत्रित हो गई। जिससे ऋषिकेश पटेल के कार्यालय में तोड़फोड़ की गई। यही नहीं, भीड़ ने एक कार भी जला दी। कई अन्य स्थानों का नुकसान किया। एक पत्रकार की खूब पिटाई भी की गई। इस घटना के लिए विसनगर पुलिस ने हार्दिक पटेल और लालजी पटेल समेत 17 लोगों के खिलाफ केस दाखिल किया था।


विसनगर कोर्ट ने 2 साल की सजा सुनाई थी
विधायक के कार्यालय में तोड़फोड़ के मामले में विसनगर कोर्ट ने हार्दिक पटेल, लालजी पटेल और ए के पटेल को दोषी पाया। तीनों आरोपियों को दो-दो साल की सजा और 50-50 हजार का जुर्माना लगाया। सजा के बाद तीनों को सशर्त जमानत पर रिहा किया गया। इसफैसले के खिलाफ लोकसभा चुनाव लडऩे के लिए हार्दिक पटेल ने सुप्रीम कोर्ट में स्टे के लिए आवेदन किया, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना