अंतिम इच्छा / कैंसरग्रस्त बच्चे को बनाया सांकेतिक पुलिस इंस्पेक्टर



X

  • अंतिम इच्छा पूरी करने की कवायद
  • सिंघम फिल्म से प्रभावित है बच्चा

Dainik Bhaskar

Aug 22, 2019, 03:04 PM IST

वडोदरा. वडोदरा शहर के एक थाने में बुधवार को कैंसर की गंभीर बीमारी से पीड़ित 10 साल के एक बच्चे की अंतिम इच्छा पूरी करने के लिए उसे एक दिन का सांकेतिक पुलिस इंस्पेक्टर बनाया गया। शहर के जे पी रोड थाने के पुलिस इंस्पेक्टर नीलेश एच ब्रह्मभट्ट ने बताया कि मेक एक विश फाउंडेशन ने 10 वर्षीय स्थानीय निवासी लक्की (बदला हुआ नाम) की अंतिम इच्छा पूरी करने के लिए पुलिस से आग्रह किया था।


सिंघम से प्रभावित
सिंघम फिल्म में अजय देवगन की भूमिका से प्रभावित लक्की पुलिस इंस्पेक्टर बनना चाहता था। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों की रजामंदी से बुधवार को उसे एक दिन का प्रभारी इंस्पेक्टर बनाया गया। इसके लिए उसे विधिवत वर्दी पहनाई गई। उसे पुलिस इंस्पेक्टर की जीप से थाने में लाया गया और जैसे ही वह वहां पहुंचा तो सभी पुलिसकर्मियों ने उसे सलामी भी दी। इसके बाद वह इंस्पेक्टर की कुर्सी पर बैठा और पुलिसकर्मियों ने रोजमर्रा की तरह उसकी बैठक में हिस्सा भी लिया। उसे अपराधों की जानकारी भी दी गई। और तो और उसे पुलिस गश्त पर भी ले जाया गया। वह पहले सुबह 10 बजे से 11 बजे और फिर शाम 4 से छह बजे तक थाने में आया और इस दौरान वह पूरी तरह पुलिस इंस्पेक्टर की भूमिका में रहा। इस दौरान वह अपनी इस भूमिका में बिल्कुल सहज रहा। खुद को पुलिस इंस्पेक्टर के रूप में देखकर बच्चे की आंखों में खुशी के आंसू छलक आए, इसे देखकर थाने में उपस्थित पुलिस वालों की आंखें भीग गईं।


 संस्था बच्चों की अंतिम इच्छा पूरी करती है
मेक-ए-विश फाउंडेशन के प्रोजेक्ट को-आर्डिनेटर रूपांदे शाह ने बताया कि हमारा संस्था द्वारा असाध्य रोग से पीड़ित बच्चों की अंतिम इच्छा पूरी करती है। आम तौर पर बच्चे अच्छे भोजन या घूमने जाने, फिल्म देखने की मांग करते हैं। परंतु लखन की इच्छा पी.आई. बनने की थी। वडोदरा शहर पुलिस प्रशासन के सहयोग से बुधवार को लखन की पीआई बनने की इच्छा पूरी की। अब तक 22 हजार 500 से अधिक बच्चों की इच्छा को संस्था ने पूर्ण किया है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना