• Hindi News
  • Gujarat
  • Uttarayan was the most injured in the afternoon, 200 people were killed, two died, 14 percent increase in emergency case

गुजरात / उत्तरायण पर दोपहर को सबसे अधिक लोग घायल, 200 को मांजा लगा, दो की मौत

Uttarayan was the most injured in the afternoon, 200 people were killed, two died, 14 percent increase in emergency case
X
Uttarayan was the most injured in the afternoon, 200 people were killed, two died, 14 percent increase in emergency case

  • इमर्जेंसी केस में 14 प्रतिशत की बढोत्तरी
  • सबसे अधिक इमर्जेंसी कॉल सूरत, दाहोद, वडोदरा, राजकोट से मिले
  • 15 जनवरी की दोपहर तक 1510 इमर्जेंसी कॉल मिले

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2020, 05:29 PM IST

अहमदाबाद. राज्य में उत्तरायण का पर्व पूरे हर्षोल्लस के साथ मनाया जा रहा है। इस दौरान पतंग की डोर ने अनेक लोगों को घायल किया। इससे दो की मौत हो गई। उत्तरायण पर 108 एम्बुलेंस को 3959 कॉल्स मिले। पिछले उत्तरायण में 3468 कॉल मिले थे। इस तरह से पिछले साल की अपेक्षा इस साल 14% अधिक कॉल मिले।


मांजे से 200 लोग घायल
तेज धारदार धागे से 200 लोगों के घायल हाेने की खबर है। इस तरह के मामले में  57 प्रतिशत यानी 114 केस तो दोपहर तक दर्ज किए गए। 15 जनवरी की दोपहर 12 बजे तक 1510 इमर्जेंसी कॉल्स मिले थे। मांजे से घायल होने के 13 मामले दर्ज किए गए थे।


जिले इमर्जेंसी कॉल्स
 

 अहमदावाद  728
 सूरत     357
 दाहोद      200
 वडोदरा      195
 राजकोट      192
 भावनगर  177
 वलसाड      147
 कच्छ    76
 भरूच      112
 पंचमहाल  112
 जामनगर  115
 गांधी नगर  103
 जूनागढ      97
 आणंद      96
 अमरेली    102
 बनासकांठा  84
 नवसारी      86
 महेसाणा  76
 महिसागर  85
 नर्मदा    81
 खेडा    135
 साबरकांठा  80
 छोटा उदेपुर  87
 तापी    75

 गीर-सोमनाथ

 61
 पाटण      50
 सुरेन्द्रनगर   51
 बोटाद      34
 पोरबंदर   35
 अरवल्ली  34
 डांग  32
 द्वारका  31
 मोरबी   34
 कुल 3959


वडोदरा में टेरेस से गिरने पर दो की मौत
वडोदरा में ओपी रोड पर शिव निकेतन सोसायटी में रहने वाले 45 वर्षीय नागेंद्र जांदार मंगलवार की शामको अपने घर की छत पर पतंग उड़ा रहे थे, उस समय उनके पांव में धागा फंस गया, जिससे वे छत से नीचे गिर पड़े। इससे उनकी मौत हो गई। दूसरी घटना यहां के खोडियार नगर के पास सयाजीपुरा पानी की टंकी के पास मुख्यमंत्री निवास बी-706 बंसीधर हाइट्स में हुई। जहां 16 वर्षीय करण राठौड़ टेरेस पर पतंग उड़ा रहा था। इस दौरान वह यह भूल गया कि वह टेरेस के एकदम किनारे पहुंच गया है। इससे वह सातवीं मंजिल से नीचे गिर गया। अस्पताल ले जाने पर इलाज शुरू होने के पहले ही उसकी मौत हो गई। 


बच्चे को कांस्टेबल ने बचाया
सूरत के चलथाण में पप्पूसिंह बाइक पर अपनी 3 संतानों के साथ अंबाजी के दर्शन के लिए जा रहा था। इस दौरान बाइक की टंकी पर आगे बैठे 4 साल के शिवम के गले पर अचानक ही पतंग की डोरी आ गई। पप्पू सिंह ने बाइक काे ब्रेक मारा, जिससे पूरा परिवार सड़क पर गिर पड़ा। इस दौरान वहां से गुजर रहे कांस्टेबल किरीट पटनी ने शिवम को अस्पताल पहुंचाया। जिससे शिवम की जान बच गई।


डोरी से कटा गला
घोड़दौड़ रोड पर बीएसएनएल कॉलोनी में रहने वाले बालू भाई पवार (67) निर्मल हॉस्पिटल के सामने फ्लाई ओवर ब्रिज से गुजर रहे थे, इस दौरान पतंग की डोरी से उनका गला कट गया। वे सड़क पर ही गिर पड़े। एक कार चालक की नजर उन पर पड़ी, उन्होंने वृद्ध को तुरंत सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। इसी तरह उघना दरवाजा ब्रिज पर बाइक पर जा रहे युवक की पतंग की डोरी से जीभ कट गई। उसे भी सिविल अस्पताल में भर्ती किया गया।


अहमदाबाद में किशोरी छत से गिरी
सुबह वस्त्राल से एक बाइक चालक गुजर रहा था, तभी उसके सामने पतंग की डोर आ गई। जिससे वह सड़क पर गिर पड़ा। उसकी आंख और कान के पास चोटें लगी। अस्पताल में भर्ती कराने के बाद उसे 28 टांके आए। वाडज में नेहा नाम की किशोरी छत से गिर गई। जिससे उसके मुंह पर काफी चोटें लगीं। उसे सिविल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। सरदारनगर में 42 वर्षीय उन्मेश भाई दत्त अपनी छत पर पतंग उड़ाते समय गिर पड़े। नीचे गिरते ही वे बेहोश हो गए। उन्हें सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। भिलोडा में भूतावड में पतंग उड़ाते समय छत से गिरे युवक के सिर पर 5 टांके आए। रखियाल में 12 वर्षीय जय पतंग उड़ाते समय छत से गिर पड़ा। उसके माथे और शरीर पर काफी चोटें आईं। उसे सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना