• Home
  • Gujarat
  • नर्मदा की गोद से 16 साल बाद निकला हाफेश्वर गांव, water level decreased in Narmada Dam Gujrat
--Advertisement--

नर्मदा की गोद से 16 साल बाद निकला हाफेश्वर गांव

गुजरात में नर्मदा बांध का जल स्तर कम होने से नदी के किनारे बसा छोटा उदेपुर जिले का हाफेश्वर गांव अब दिखने लगा है।

Danik Bhaskar | Apr 10, 2018, 01:28 AM IST

संखेडा (छोटा उदेपुर). गुजरात में नर्मदा बांध का जल स्तर कम होने से नर्मदा नदी के किनारे बसा हाफेश्वर गांव उबर रहा है। डूब जाने के 16 से 17 साल बाद हाफेश्वर गांव के ये दृश्य सामने आ रहे हैं। हाफेश्वर मंदिर का शिखर कुछ सप्ताह पहले दिखना शुरू हुआ था। अब इसके आसपास का इलाका भी नजर आने लगा है। पानी की कमी के चलते नर्मदा नदी के तटीय क्षेत्र जो कि पानी से बाहर आया है उसकी जमीन में एक से 1.5 फुट की दरारें पड़ गई हैं।

कच्चे घर थे यहां, जहां अभी पानी है

हाफेश्वर गांव के घर कच्चे थे। अभी जहां पानी नजर आ रहा है वहां पांच से छह बस्तियां थीं। हांफेश्वर, लीमडी, फलियु, झरणा, पादर और पेंट्रिया नामक बस्तियां थीं। पानी आने पर ये बस्तियां खाली की गईं। हाफेश्वर के विस्थापित विजयभाई बताते हैं कि- पहले नदी के आसपास के ऊंचे टेकरों-पहाड़ तक पानी था। अब ये पानी घट गया है। फलत: जलराशि किनारों से बहुत दूर हो गई है। 16 से 17 साल में पहली बार ये नजारे दिख रहे हैं।

70 फुट घटा जलस्तर : नर्मदा डैम के कारण डूबे इस क्षेत्र में 16 साल से पानी भरा था, पर इस साल डैम का पानी 70 फुट तक घट गया है। नदी का पट 1000 मीटर तक सूख गया है।

फैक्ट...

105.14 मीटर नर्मदा डैम का वर्तमान जलस्तर

2100 क्यूसेक पानी की आवक
2680 क्यूसेक पानी केनाल में छोड़ा जा रहा है
625 क्यूसेक पानी नदी में छोड़ा जा रहा है