• Hindi News
  • Gujarat
  • X ray of ahmedabads damaged road, 51ft long and 1.5 ft hole on sg highway sp ring road

भास्कर रिपोर्ट / अहमदाबाद के जर्जर रास्तों का “एक्स रे” 51 फीट लम्बे, डेढ़ फीट गहरे और 22 फीट चौड़े गड्ढे



X ray of ahmedabads damaged road, 51ft long and 1.5 ft hole on sg highway sp ring road
X
X ray of ahmedabads damaged road, 51ft long and 1.5 ft hole on sg highway sp ring road

  • भास्कर ने मेजरमैंट टेप से नापा गड्ढे का साइज
  • कई टू व्हीलर चालक गिर चुके हैं
  • बारिश में यहां से निकलना ही मुश्किल

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2019, 03:55 PM IST

चेतन पुरोहित-दीपक भाटी, अहमदाबाद. शहर में अभी तक सीजन की सामान्य बारिश ही हुई है। ऐसे में शहर को विभिन्न मार्गों से जोड़ने वाले रास्तों पर 10 से 20 फीट चौड़े गड्ढों का एक्स रे भास्कर ने किया है। इस ग्राउंड रिपोर्ट में भास्कर ने मेजरमेंट टेप से गड्ढे की साइज को मापा था।
 

चौंकाने वाली जानकारी
इस गड्ढों का मेजरमेंट किए जाने पर गड्ढों की लम्बाई-चौड़ाई और गहराई जानकार लोग चौंक सकते हैं। ऐसी हालत एस.जी.हाइवे पर स्थित पटेल ट्रावेल्स के सामने की सर्विस रोड, इस्कॉन ब्रिज से आखिर से राजपाथ क्लब के पास और एस.पी.रोड पर स्थित वकील साहब ब्रिज के नीचे देखने को मिली। इस ग्राउंड रिपोर्ट पर सभी गड्ढों का 3 मीटर के मेजरमेंट प्रशासन का ध्यान आकृष्ट करने के लिए किया गया है।
 

मेजरमेंटटेप का दो बार इस्तेमाल हुआ
भास्कर ने गड्ढों की स्थिति जानने के लिए मकरबा फाटक से शुरुआत की। गड्ढे की साइज मापने वाले तीन मीटर के मेजरमेंट टेप का उपयोग दो बार किया गया। इन गड्ढों से शहरवासियों की परेशानी और प्रशासन की घोर उपेक्षा के चित्र उपस्थित होते हैं। शहरवासी की हालत तो बद से बदतर हो गई। उनकी सुनने वाला ही कोई नहीं है। एक तरफ गड्ढों से परेशान आम जनता चीख रही है, दूसरी तरफ सांसद-विधायकों के चेम्बर में सब कुछ सही होने का दावा किया जा रहा है।
 

बारिश में हालत बहुत ही ज्यादा खराब
मकरबा फाटक के पास साढ़े 5 फीट चौड़ा और 10 फीट लम्बा गड्ढा देखने को मिला। इससे 5 मीटर की ही दूरी पर  दूसरे गड्ढे की लम्बाई साढ़े 5 फीट और गहराई 8 इंच वाला गड्ढा देखने को मिला। वेजलपुर फाटक औड़ा के मकान के पास 7 इंच गहरा गड्ढा मिला। मकरबा से आनंदनगर रोड पर 20 फीट लम्बा गड्ढा था। जिसे मापने के लिए मेजरमेंट टेप का दो बार इस्तेमाल किया गया। इन दिनों बारिश में इन रास्तों की हालत बहुत ही ज्यादा खराब है।
 

कई टू व्हीलर चालक गिर चुके हैं
एस.जी.हाइवे पर स्थित पटेल ट्रावेल्स प्रहलाद नगर के पास एएमटीएस बस स्टैंड के पास गड्ढों की स्थिति ऐसी है कि कोई गर्भवती महिला टू व्हीलर पर जाए और गड्ढों में गिरे, तो निश्चित ही मिसकैरेज हो जाए। यहां

22 फीट चौड़ा और 50 फीट लम्बा गड्ढा है। इस गड्ढे की गहराई 1 फीट 3 इंच है। इस गड्ढे में न जाने कितने ही टू व्हीलर चालक गिरकर घायल हुए हैं। ये दृश्य कैमरे में भी कैद हो गए हैं।
 

इस्कॉन ब्रिज के पास 10 से 12 गड्ढे
इस्कॉन ओवरब्रिज के पास-सरखेज से गांधीनगर जाने वाले इस्कॉन ब्रिज के पास 10 से 12 गड्ढे हैं। इनकी लम्बाई 3 फीट और गहराई 6 इंच है। इसमें से तेज गति से जाने वाले वाहन गुजरते हैं। उधर कर्णावती क्लब के पास का सर्विस रोड दयनीय हालत में है। इस्कॉन मोल के पास राजपथ क्लब के करीब सर्विस रोड और एस.जी.हाइवे पर 7 फीट चौड़ा गड्ढा है। इसकी लम्बाई 4 फीट है। यहां सबसे अधिक वाहनों के स्लीप होने का खतरा होता है।
 

वकील साहब ब्रिज के नीचे 30 फीट लम्बा गड्ढा
राजपथ क्लब के बाहर एस.जी.हाइवे-राजपथ क्लब के बाहर एस.जी.हाइवे पर 5 फीट 4 इंच का गड्ढा है। जब लोगों को यहां से मजबूरी में गुजरना होता है। बोपल वकील साहब ब्रिज के नीचे-बोपल ब्रिज के नीचे से रोज करीब 3 हजार वाहन गुजरते हैं। इस्कॉन से बोपल जाने के लिकए वकील साहब ब्रिज के नीचे 30 फीट लम्बा और 14 फीट चौड़ा गड्ढा है। बारिश में यहां से निकलना ही मुश्किल हो जाता है। कई बार यहां से वीवीपीआई भी गुजरते हैं, पर उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। वे भी इसे नजर अंदाज करके निकल जाते हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना