लॉकडाउन / राजकोट में पुलिस को देखते ही भागने वाले युवा की अस्पताल में मौत

फाइल फोटो फाइल फोटो
X
फाइल फोटोफाइल फोटो

  • लॉकडाउन के बाद भी लोग घर से निकलने पर बाज नहीं आ रहे
  • लोग अभी भी झुंड बनाकर घर के बाहर बैठे रहते हैं

दैनिक भास्कर

Mar 25, 2020, 11:17 AM IST

राजकोट. कोरोनावायरस को लेकर लोग अभी भी गंभीर नहीं है। इसका उदाहरण तहसील के सणोसरा गांव में तब देखने को मिला, जब घर से बाहर निकलने वाले युवाओं ने पुलिस की वेन को देखा। फिर दौड़ लगा दी। इसी बीच एक युवक करीब 500 मीटर दौड़ा और बेहोश होकर गिर पड़ा। बाद में अस्पताल में उसकी मौत हो गई।


रास नहीं आ रही है चेतावनी
कोरोनावायरस को लेकर सरकार की चेतावनी लोगों को रास नहीं आ रही है। सणोसरा गांव का विजय उर्फ शैलेष धीरुभाई मांडविया(35) अपनी दुकान के बाहर बैठा था। उसके साथ गांव में अन्य युवक भी बैठे थे। शाम करीब 4 बजे कुवाड़वा पुलिस की पीसीआर वेन वहां पहुंची। पुलिस को देखते ही सभी भागे। उन्हीं के साथ विजय भी भागा, पर 500 मीटर भागने के बाद वह गिर पड़ा। तब गांव वाले बाहर आ गए। सभी ने देखा कि विजय बेहोश हो चुका है। उसे घर ले जाया गया। उस पर पानी छिंटा गया। थोड़ी देर बाद उसे होश आ गया। उसके बाद जब उसने फिर चलने की कोशिश की, तो वह फिर बेहोश हो गया। तब उसे कुवाड़वा के स्वास्थ्य केंद्र में ले जाया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना