--Advertisement--

उस मासूम से 2 दिव्यांगों के अलावा 4 और शख्सों ने की थी ज्यादती

पीड़िता की सोमवार को सर्जरी, गर्भ में पल रहा शिशु मानसिक रूप से बीमार होगा।

Danik Bhaskar | Mar 16, 2018, 12:35 PM IST
महिला पुलिस थाना। महिला पुलिस थाना।

राजकोट। बाबरिया कॉलोनी मेें 11 साल की किशोरी पर हुए दुष्कर्म के बाद उसे गर्भवती बना दिए जाने के मामले में एक और चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है। अब तक यही कहा जा रहा था कि दो बुजुर्ग दिव्यांगों द्वारा उससे ज्यादती की गई, अब यह तथ्य सामने आया है कि उसके साथ कुल 6 लोगों ने ज्यादती की थी। अब डॉक्टर्स का कहना है कि किशोरी का अजन्मा बच्चा मानसिक रूप से बीमार होगा। डॉक्टर्स के लिए चुनौती…

किशोरी के इलाज के लिए डॉक्टर्स की बैठक हुई। इसमें अधिक्षक डॉ. मनीष महेता ने बताया कि सोनोग्राफी रिपोर्ट में गर्भ में स्थित बच्चे के मस्तिष्क में पानी भर गया है, इससे बच्चा मानसिक रूप से बीमार होगा। दूसरी तरफ उसकी सर्जरी करना भी एक चुनाैती है। डॉक्टर्स ने तय किया है कि पीड़िता की सर्जरी सोमवार को की जाए। इस समय किशोरी की हालत सामान्य है।

दोनों दिव्यांग आरोपी जेल में

किशाेरी पर बहरे और नेत्रहीन दिव्यांगों के अलावा अन्य चार शख्सों ने ज्यादती की थी। इस पर पुलिस ने बाबरिया इलाके में रहने वाले दोनों दिव्यांग नानजी धनजी जाविया, अरविंद कुबावत के बाद विजानंद रवा मैयड और एक 17 साल के नाबालिग की धरपकड़ की है। इन्होंने बताया कि किशोरी को काम के बहाने ये दोनों दिव्यांग अपने घर बुलाते और वहां उससे ज्यादती करते। इसके अलावा इस मामले में कल देर रात विपुल कांति चावड़ा को अरेस्ट किया गया। एक और आरोपी गोविंद साकरिया अभी फरार है, पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

दो बुजुर्ग दिव्यांग आरोपी जेल भेजे गए। दो बुजुर्ग दिव्यांग आरोपी जेल भेजे गए।
घर के काम के लिए किशोरी को बुलाते, फिर करते दुष्कर्म। घर के काम के लिए किशोरी को बुलाते, फिर करते दुष्कर्म।
अन्य चार नाम भी सामने आए। अन्य चार नाम भी सामने आए।
कुल 5 की गिरफ्तारी, एक आरोपी फरार। कुल 5 की गिरफ्तारी, एक आरोपी फरार।