राजकोट

--Advertisement--

शादी के मंडप में दुल्हन ने ऐसा क्या कहा कि छा गया सन्नाटा !

ढाई साल पहले हुई थी सगाई, दुल्हन ने फेरे से इंकार क्यों किया, इस पर दूल्हा कुछ भी नहीं कह पाया।

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2018, 12:01 PM IST
दूल्हे ने कहा कि सगाई के बाद हमने फोन पर बहुत सी बातें की। दूल्हे ने कहा कि सगाई के बाद हमने फोन पर बहुत सी बातें की।

ऊना। ऊना तहसील किे देलवाड़ा गांव में शादी के मंडप में कन्या ने फेरे लेने से इंकार कर दिया, इससे यह आसपास के इलाकों में चर्चा का विषय बना हुआ है। इस पर दूल्हे ने कहा कि मुझे इसका आभास तक नहीं था, हमारी सगाई ढाई साल पहले सगाई हुई थी, इस दौरान हम फोन पर बातचीत की, कई स्थानों पर घूमने भी गए, पर दुल्हन ने कभी नहीं बताया कि वह शादी नहीं करना चाहती। सभी रस्में पूरी, पर फेरे से इंकार…

ऊना के नांदण के वाजा परिवार के संदीप भाई वाजा की शादी देलवाड़ा की रुपल बेन बालूभाई बांभडिया के साथ तय हुआ। दोनों की सगाई ढाई साल पहले हो चुकी थी। सोमवार को कोली समाज के सामूहिक विवाह में नवयुगल परिणय सूत्र में बंधने के लिए तैयार थे। शादी की तैयारियां पूरी हो चुकी थी। ढोल-बाजे के साथ बरात आई। सभी मंडप में बैठे। हस्तमिलाप तक की सारी रस्में पूरी हो गई। अाखिर में जब पंडित ने दोनों को फेरे लेने के लिए कहा, तो दुल्हन ने मना कर दिया। इससे शादी के मंडप में सन्नाटा छा गया।

किसी ने फोन कर दिया था

किसी जाग्रत नागरिक ने वेरावल के कंट्रोल रूम में फोन करके यह कह दिया था कि कोली समाज के सामूहिक विवाह में रूपल की शादी संदीप के साथ उनकी मर्जी के खिलाफ हो रही है। इस पर पुलिस ने शादी के मंडप में पहुंचकर कन्या के बयान लिए। तब कन्या ने कुछ नहीं कहा। तब पुलिस ने उसकी जन्म तिथि आदि की जानकारी लेकर और मां का बयान लेकर चली गई।

क्या कहता है दूल्हा

ढाई साल पहले हमारी सगाई हुई थी, फोन पर हमारी खूब बातचीत हुई। हम दोनों जूनागढ़ और दीव घूमने भी गए। उस दौरान उसने मुझसे कभी नहीं कहा कि वह मुझसे शादी नहीं करना चाहती। ऐन वक्त पर उसने शादी से इंकार कर दिया, इससे मैं आहत हूं। इसके बाद दूल्हा बिना दुल्हन के वापस लौट आया। उधर कन्या एवं उसके माता-पिता सम्पर्क की कोशिश की गई, तो पता चला कि वे इस बारे में किसी से कुछ भी नहीं कहना चाहते।

शादी के मंडप में कन्या ने फेरे लेने से किया इंकार। शादी के मंडप में कन्या ने फेरे लेने से किया इंकार।
कन्या इस संबंध में कुछ भी नहीं कहना चाहती। कन्या इस संबंध में कुछ भी नहीं कहना चाहती।
X
दूल्हे ने कहा कि सगाई के बाद हमने फोन पर बहुत सी बातें की।दूल्हे ने कहा कि सगाई के बाद हमने फोन पर बहुत सी बातें की।
शादी के मंडप में कन्या ने फेरे लेने से किया इंकार।शादी के मंडप में कन्या ने फेरे लेने से किया इंकार।
कन्या इस संबंध में कुछ भी नहीं कहना चाहती।कन्या इस संबंध में कुछ भी नहीं कहना चाहती।
Click to listen..