--Advertisement--

रास्ते के लिए रास्ते पर न उतरना पड़े, जिग्नेश ने दिया अल्टीमेटम

7 गांवों में रास्ते की समस्या पर जिला कलेक्टर को आवेदन देकर 45 दिन का अल्टीमेटम दिया।

Danik Bhaskar | Dec 20, 2017, 01:10 PM IST
कलेक्टर को ज्ञापन देते हुए जिग्नेश मेवाणी कलेक्टर को ज्ञापन देते हुए जिग्नेश मेवाणी

पालनपुर। वडगाम के नवनिर्वाचित विधायक जिग्नेश मेवाणी ने वडगाम के आसपास के 7 गांवों में सड़क की हालत को लेकर एक आवेदन जिला कलेक्टर को दिया। जिसमें उसने 45 दिन का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि इन रास्तों को लेकर मुझे रास्ते पर न आना पड़े। प्रचार के दौरान रास्ते से समस्याओं से अवगत हुए…

विधानसभा चुनाव में प्रचार के दौरान जिग्नेश मेवाणी रास्ते की समस्याओं से अवगत हुए थे। उनके सामने इन रास्तों को ठीक कराने की मांग भी की जाती रही। ये रास्ते हैं वडगाम तहसील के नवा शेरपुरा, हजुरपुरा(इकबालपुरा), अशोकगढ़, करसनपुरा, वरणावाड़ा, हसनपुरा, नवा पांडवा और कालेडा।

45 दिनों के अंदर काम नहीं हुआ, तो आंदोलन

मेवाणी ने रास्तों की सूची कलेक्टर को सौंपते हुए कहा है कि 45 दिनों के अंदर इन रास्तों पर काम नहीं हुआ, तो आंदोलन किया जाएगा। कलेक्टर आर.जे.माकडिया ने मौखिक आश्वासन देते हुए कहा कि इन रास्तों पर काम समय रहते शुरू हो जाएगा। इस दौरान जिग्नेश के साथ उनके काफी समर्थक भी साथ थे। कलेक्टर कार्यालय में केवल दस लोगों के प्रवेश की अनुमति होने के कारण कई समर्थक मेवाणी के साथ कलेक्टर के पास नहीं जा पाए, जिससे वे नाराज हो गए।

रास्ते के संबंध में पंचायत कार्यालय से जानकारी मांगी

जिला पंचायत मार्ग और मकान विभाग के सूत्रों के अनुसार रास्ते की समस्याओं को लेकर विभाग ने राज्य सरकार को मसौदा भेजा है। कुछ रास्तों की टेंडरिंग की प्रक्रिया जारी है। संभव है समय रहते सभी रास्तों पर काम शुरू हो जाए।