Hindi News »Gujarat »Rajkot» Murder Sons Wife Also Present When Son Killed His Mother In Rajkot

मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा

पुलिस यह जानने में लगी है कि इस मामले में कहीं संदीप की पत्नी की कोई भूमिका तो नहीं?

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Jan 06, 2018, 03:48 PM IST

  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
    पत्नी के साथ संदीप।

    राजकोट। शहर में प्रोफेसर बेटे द्वारा रिटायर्ड टीचर और मां को चौथी मंजिल से धक्का देकर मार डालने का मामला सामने आया है। इस घटना से कलयुगी बेटे पर लानतें भेजी जा रही है। पुलिस हिरासत में बेटे ने कबूला कि वह मां को चौथी मंजिल पर ले जाकर उसे गोद में बिठा लिया, फिर उसके पैर ऊपर किए और धक्का दे दिया, जिससे मां नीचे गिर पड़ी और उसकी मौत हो गई। अब हो रहा है पछतावा...

    पुलिस को प्रोफेसर बेटे संदीप ने बताया है, उसे अपनी करनी पर पछतावा है। अब पुलिस यह तलाशने में लगी है कि इस हत्या में कहीं मृतक की बहू की कोई भूमिका तो नहीं? सीसीटीवी के आखिरी हिस्से को देखकर यही लगता है कि बेटा जो कुछ कर रहा है, उसकी पूरी जानकारी उसकी पत्नी को है। फिर घटना के आधे घंटे बाद बहू का आना भी कुछ संदिग्ध लगता है।

    सास-बहू के झगड़ों से त्रस्त हो गया था संदीप

    पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद बेटे ने कहा- मैं रोज-रोज की लड़ाई से थक गया था। मां और पत्नी के बीच आए दिन झगड़े होते थे। मजबूर होकर मां को चौथी मंजिल से फेंक दिया। फुटेज में साफ-साफ नजर आ रहा है कि बेटा मां को लेकर बाहर निकलता है...। इस दौरान उसकी वाइफ का भी अग्रेसन दिखता है। यह गुस्सा पता नहीं, मां पर था या पति पर।

    सीसीटीवी में दिख रहा है कि प्रोफेसर ने मां को रूम से बाहर निकाला और सीढ़ियों की तरफ बढ़ा। फुटेज देखकर यही लगता है, जैसे मां को मौत का आभास हो चुका था, तभी वो पैर आगे नहीं बढ़ा रही थी। पहली सीढ़ी के पास वो जैसे पहुंची, पैर थम गए। बेटे के बार-बार कहने के बावजूद पैर शून्य हो चुके थे। इसके बाद वो जबरन मां का बायां पैर आगे बढ़ाता है। एक-एक पैर को वो खुद उठाता और सीढ़ियों पर आगे बढ़ाता जाता है। प्रोफेसर इस तरह मां को छत पर ले गया। इसके बाद वो हुआ, जिसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है। लाचार मां को उसने 4th फ्लोर से धक्का दे दिया और दबे पांव रूम के अंदर आ गया।

    तकरीबन 5 मिनट बाद सीढ़ियों से हांफते हुए एक आदमी ऊपर आता है और चिल्लाते हुए प्रोफेसर को आवाज लगाता है। प्रोफेसर ने इसके लिए पहले से तैयारी कर रखी थी। तभी वो टेंशन और चेहरे पर मां के गिरने के अफसोस को जताते हुए बाहर निकलता है। पीछे से पत्नी भी गंभीर मुद्रा में बाहर आती है। दोनों भागते हुए नीचे जाते हैं और फिर रोना-चीखना-चिल्लाना शुरू हो जाता है। 3 महीने से चले आ रहे इस नाटक का आखिरकार गुरूवार को पर्दाफाश हो ही गया।

    क्या है ये मामला?

    - प्रोफेसर का नाम संदीप है। उसकी मां का नाम जयश्रीबेन है। वह टीचर थी। ब्रेन हेमरेज की वजह से जयश्रीबेन बिस्तर पर थी। उसके परिवार में दो बेटियां और बेटा संदीप है। वह बेटा, बहू रचना और पोती के साथ रहती थीं। ऐसा कहा जा रहा है कि सास-बहू में खटपट होती थी।

    तीन महीने पहले हुई थी जयश्रीबेन की मौत

    - गांधीग्राम के दर्शन एवेन्यू में रहने वाली जयश्रीबेन विनोदभाई नाथवानी की 27 सितंबर को बिल्डिंग की छत से गिरने के बाद मौत हो गई थी। पुलिस ने इसे हादसा मानते हुए मामला बंद कर दिया था।

  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
    मां को सीढ़ियों से ऊपर ले जाते हुए संदीप।
  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
    मां को चौथे माले से धक्का देकर की थी हत्या।
  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
    मां को सीढ़ियों से ऊपर ले जाते हुए संदीप।
  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
    संदीप की पत्नी।
  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
    मरणासन्न मां।
  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
    पत्नी के साथ संदीप।
  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
    इसी बिल्डिंग से फेंका था मां को।
  • मां को गोद में बिठाकर दिया था धक्का, कलयुगी बेटे से स्वीकारा
    +12और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Rajkot News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Murder Sons Wife Also Present When Son Killed His Mother In Rajkot
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Rajkot

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×