Hindi News »Gujarat »Rajkot» Patans Urvisha Became A Juda Champian In State

पूड़ी-सब्जी का ठेला लगाने वाली उर्विशा जूडो के स्टेट लेबल में First

आगामी दिनों में जालंधर में आयोजित अंडर 17 की स्पर्धा के लिए उर्विशा खुद को तैयार कर रही है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Nov 06, 2017, 02:22 PM IST

  • पूड़ी-सब्जी का ठेला लगाने वाली उर्विशा जूडो के स्टेट लेबल में First
    +4और स्लाइड देखें
    पाटण। यहां बस स्टैंड पर पूड़ी-सब्जी का ठेला चलाकर परिवार चलाने वाली बेटी उर्विशा ने खेल महाकुंभ में आयोजित अंडर 17 की जूडो स्पर्धा में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। आने वाले दिनों में वह पंजाब के जालंधर में आयोजित नेशनल जूडो की अंडर 17 स्पर्धा में गुजरात का नाम रोशन करने के लिए पूरी मेहनत कर रही है। सभी बच्चों को खेल में दिलचस्पी…
    शहर के जयवीर नगर सोसायटी के वीरकृपा अपार्टमेंअ में रहने वाले और बस स्टैंड के पास पूडी-सब्जी का ठेला चलाकर परिवार चलाने वाले कीर्ति सिंह उनकी पत्नी तखीबेन अपनी बेटियों किरण, नेहा और उर्विशा और बेटे पूनम सिंह को हमेशा खेल के लिए प्रोत्साहित करते रहते हैं। हाल में राज्य सरकार द्वारा आयोजित खेल महाकुंभ में उर्विशा ने नडियाद और अहमदाबाद में अंडर 17 की जूडो स्पर्धा में पहला स्थान प्राप्त किया है।
    उर्विशा की नजर जालंधर पर
    आगामी दिनों में जालंधर में आयोजित अंडर 17 की स्पर्धा के लिए उर्विशा खुद को तैयार कर रही है। अपने गुरु प्रणव रामी के निर्देशन में प्रेक्टिस कर रही है। आगे चलकर उर्विशा जूडो की कोच बनना चाहती है। बहरहाल वह अभी 12 वीं की छात्रा है। पढ़ाई के अलावा वह अपने पिता के काम में भी सहयोग करती है।

    आगेकी स्लाइड्स में देखें PHOTOS

  • पूड़ी-सब्जी का ठेला लगाने वाली उर्विशा जूडो के स्टेट लेबल में First
    +4और स्लाइड देखें
  • पूड़ी-सब्जी का ठेला लगाने वाली उर्विशा जूडो के स्टेट लेबल में First
    +4और स्लाइड देखें
  • पूड़ी-सब्जी का ठेला लगाने वाली उर्विशा जूडो के स्टेट लेबल में First
    +4और स्लाइड देखें
  • पूड़ी-सब्जी का ठेला लगाने वाली उर्विशा जूडो के स्टेट लेबल में First
    +4और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Rajkot

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×