--Advertisement--

मर्यादा-संस्कार के लिए पद्मावती ने दी थी जान-राजकोट की रानी

राजकोट के राज परिवार की कादम्बरी देवी की भास्कर से बातचीत।

Danik Bhaskar | Nov 22, 2017, 01:58 PM IST
राजकोट के राज परिवार की रानी कादम्बरी देवी। राजकोट के राज परिवार की रानी कादम्बरी देवी।

राजकोट। संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ को लेकर देश भर में विरोध हो रहा है। फिल्म को लेकर राजनीति की जा रही है। देश के रजवाड़ों और क्षत्रिय समाज में रोष है। ऐसे में राजकोट के राज परिवार की रानी कादम्बरी देवी ने भास्कर से बातचीत में बताया कि राजपूतों की लाज, मर्यादा पर बात आ गई है। इसलिए समाज का विरोध है। दीपिका अच्छी अभिनेत्री…

कादम्बरी देवी ने बताया कि दीपिका पादुकोन एक अच्छी अभिनेत्री है। वह तो रोजी-रोटी के लिए शरीर बताकर डांस करती है। पद्मावती संस्कारी महिला थीं। हमने भले ही फिल्म न देखी हो, पर मर्यादा को संजोकर रखा ही जाता है। इसी मर्यादा और संस्कार के लिए पद्मावती ने अपनी जान दे दी थी।

काट-छांटकर फिल्म प्रदर्शित की जाए

कादम्बरी देवी ने बताया कि पद्मावती ने मर्यादा, संस्कार और लाज के लिए अपनी जान दी थी। इसमें ऐसा कुछ भी नहीं लगता। फिल्म में भावनाओं से छेड़छाड़ की गई है, ऐसा लगता है। मान-मर्यादा को संजोकर रखना चाहिए, नहीं तो इसका असर भावी पीढ़ी पर पड़ता है। इस समय देश में प्रधानमंत्री जनमत के आधार पर ही हैं। इसलिए पद्मावती फिल्म में जहां तक हो, सत्यता को बताना चाहिए। अब फिल्म बन गई है, तो क्षत्रिय समाज की सहमति से उसमें काट-छांट कर उसे प्रदर्शित किया जाना चाहिए।

आगे की स्लाइड्स में देखें PHOTOS

राजकोट के राज परिवार के युवराज मांधाता सिंह और उनकी पत्नी कादम्बरी देवी। राजकोट के राज परिवार के युवराज मांधाता सिंह और उनकी पत्नी कादम्बरी देवी।
जनमत के अनुसार फिल्म को काट-छांटकर प्रदर्शित किया जा सकता है। जनमत के अनुसार फिल्म को काट-छांटकर प्रदर्शित किया जा सकता है।
पद्मावती संस्कारी थीं। पद्मावती संस्कारी थीं।
मर्यादा और संस्कार के लिए दी थी पद्मावती ने अपनी जान। मर्यादा और संस्कार के लिए दी थी पद्मावती ने अपनी जान।
दीपिका अंग प्रदर्शन कर रोजी-रोटी कमा रही है। दीपिका अंग प्रदर्शन कर रोजी-रोटी कमा रही है।
हमने भले ही फिल्म न देखी हो, पर मर्यादा को समझते हैं। हमने भले ही फिल्म न देखी हो, पर मर्यादा को समझते हैं।