--Advertisement--

ससुर, पति और देवर मिलकर मेरी हत्या करना चाहते थे, जामनगर के पूर्व सांसद के खिलाफ बहू की शिकायत

साजिश के अनुसार पति उसे दिल्ली, हरिद्वार और ऋषिकेश आदि स्थानों में घुमाने के लिए ले गए थे।

Dainik Bhaskar

Sep 01, 2018, 02:17 PM IST
दिव्या पति हितेश और बेटे के साथ। दिव्या पति हितेश और बेटे के साथ।

जामनगर। यहां हाथी कॉलोनी में रहने वाली दिव्या बेन हितेश भाई कोरडिया ने एसपी को दिए आवेदन में कहा है कि मेरे पति, ससुर और देवर मुझे मौत के घाट उतारने की साजिश रच रहे हैं। इसके लिए पति मुझे दिल्ली, हरिद्वार, ऋषिकेश आदि स्थानों पर घुमाने भी ले गए। पर उनकी कोशिशें कामयाब नहीं हो पाई। आडियो केसेट हाथ लगा…

अावेदन में पुत्रवधू दिव्या ने बताया कि उनकी शादी 18 साल पहले पूर्व सांसद और वर्तमान में जामनगर जिला भाजपाध्यक्ष चंद्रेशभाई वालजीभाई कोरडिया के पुत्र हितेश के साथ हुई थी। संतान में एक बेटा है, जो 11 साल का है। हमारा घर-संसार अच्छा चल रहा था, इसी बीच मुझे एक ऑडियो केसेट हाथ लगा, जिसमें ससुर चंद्रेश भाई, पति हितेश और देवर विपुल और चंद्रेश भाई का पीए मुकुंद भाई समाया मिलकर मुझे और मेरे बेटे को मौत के घाट उतारने की योजना बना रहे हैं।

40 मिनट का है ऑडियो केसेट

यह ऑडियो केसेट 40 मिनट का है। साजिश के अनुसार हितेश मुझे 20 मई 2018 से 31 मई 2018 तक दिल्ली, हरिद्वार, ऋषिकेश आदि स्थानों पर ले गए। इन स्थानों पर हम दोनों को मारकर लाश ठिकाने लगाने की योजना थी। परंतु इस दौरान मैं बीमार पड़ गई। इससे उनकी योजना पर पानी फिर गया। ऑडियो में वार्तालाप से यह साफ हो जाता है कि गुंडों के माध्यम से मेरी हत्या कर उसे दुर्घटनार या आत्महत्या का मामला बनाया जा सकता है। पति हितेश शराब पीकर मुझसे मारपीट करते हैं। इसलिए मुझे सुरक्षा दी जाए।

हमें बदनाम करने की साजिश

पुत्रवधू द्वारा किए गए आरोपों को लेकर ससुर चंद्रेश भाई के बेटे विपुल ने बताया कि आॅडियो केसेट पूरी तरह से झूठी है। यह मेरे पिता को बदनाम करने की साजिश है।

जामनगर के पूर्व सांसद चंंद्रेश और उनका बेटा विपुल। जामनगर के पूर्व सांसद चंंद्रेश और उनका बेटा विपुल।
पुत्रवधू की अर्जी, जो गुजराती भाषा में है। पुत्रवधू की अर्जी, जो गुजराती भाषा में है।
X
दिव्या पति हितेश और बेटे के साथ।दिव्या पति हितेश और बेटे के साथ।
जामनगर के पूर्व सांसद चंंद्रेश और उनका बेटा विपुल।जामनगर के पूर्व सांसद चंंद्रेश और उनका बेटा विपुल।
पुत्रवधू की अर्जी, जो गुजराती भाषा में है।पुत्रवधू की अर्जी, जो गुजराती भाषा में है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..