Hindi News »Gujarat »Rajkot» Nalin Kotadiya Can Be Killed In An Encounter With The Rs 240-Crore Scandal

240 करोड़ का घोटाला दबाने के लिए हो सकता है मेरा एनकाउंटर-कोटड़िया

बिटकॉइन घोटाला:पूर्व विधायक भूमिगत पर मीडिया तक पहुंचाया प्रेस नोट।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - May 08, 2018, 03:18 PM IST

  • 240 करोड़ का घोटाला दबाने के लिए हो सकता है मेरा एनकाउंटर-कोटड़िया
    +1और स्लाइड देखें
    नवीन कोटड़िया।

    अमरेली। 12 करोड़ के बिटकॉइन मामले में सीआईडी क्राइम पूछताछ के लिए पूर्व विधायक नलिन कोटड़िया को दो बार समन भेज चुकी है, पर कोटड़िया अभी तक सीआईडी के सामने पेश नहीं हुए। उनका मोबाइल भी बंद है। विधायक नलिन कोटड़िया धारी में होने का दावा करते रहे हैं। सोमवार को उन्होंने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करके कहा कि बिटकॉइन घोटाले में फंसाकर मेरी हत्या या एनकाउंटर हो सकता है। इस घोटाले में एक नामी आदमी शामिल...

    प्रेस विज्ञप्ति में उन्होंने बताया है कि 240 करोड़ के बिटकॉइन में एक नामी आदमी भी भागीदार है। नलिन कोटड़िया ने कहा कि 12 करोड़ के बिटकॉइन की जांच जरूरी है, पर 240 करोड़ के घोटाले की जांच क्यों नहीं हो रही है? शैलेष भट्‌ट ने पहले धवल भट्‌ट से 240 करोड़ के 2300 बिटकॉइन लिया था, जिसमें एक नामी आदमी भी भागीदार है। 24 फरवरी को फैक्स और मोबाइल से इसकी जानकारी गृहमंत्री को दी थी। इसके बाद मेरे भतीजे किरीट पालडिया ने 28 बार जानकारी दी थी, पर शैलेष भट्‌ट के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। इसके पीछे एक नामी आदमी का हाथ है। 240 करोड़ के बिटकॉइन में पुलिस खुद शिकायत क्यों नहीं दर्ज कर रही है।

    12 करोड़ का 200 बिटकॉइन ट्रांसफर हुआ ही नहीं

    उन्होंने कहा कि 12 करोड़ का 200 बिटकॉइन ट्रांसफर हुआ ही नहीं। जिसकी एफएसएल रिपोर्ट भी मेरे पास है। 240 करोड़ के बिटकॉइन के बारे में शैलेष के बयान की रिकॉर्डिंग सीआईडी और गृहमंत्री को सौंपी गई है। इसके बावजूद इसमें रोज नई-नई बातें लाई जा रही है। उन्होंने कहा कि इस घोटाले को दबाने, साक्ष्य नष्ट करने के लिए मेरी हत्या या एनकाउंटर हो सकता है। मैं कहीं गया नहीं हूं, घारी में ही और मेरा फोन भी बंद नहीं है।

    शैलेष भट्‌ट की गिरफ्तारी न होने पर आत्मदाह करूंगा : विधायक

    प्रेस विज्ञप्ति में पूर्व विधायक नलिन कोटड़िया ने धमकी दी है कि इसका मुख्य आरोपी शैलेष भट्‌ट है। शैलेष भट्‌ट और एक नामी आदमी के खिलाफ शिकायत दर्ज कर उसे गिरफ्तार नहीं किया गया तो हम परिवार के साथ आत्मदाह करेंगे। इससे पहले कई चेहरों को सामने लाकर रहूंगा। नलिन कोटड़िया का खास आदमी 25 लाख रु. के साथ गिरफ्तार, पूछताछ के लिए सीआईडी गांधीनगर ले आई है।

    जांच पहुंची राजकोट

    बिटकॉइन मामले में अमरेली और अहमदाबाद के बीच चल रही जांच अब राजकोट तक पहुंच गई है। सीआईडी क्राइम की एक टीम ने पूर्व विधायक नलिन कोटड़िया के नजदीक माने जाने वाले नानकूभाई आहिर को गिरफ्तार किया है। उधर, बिटकॉइन मामले में गिरफ्तार मुख्य साजिशकर्ता किरीट पालडिया ने पूछताछ में खुद को मिली रकम में से अमुक हिस्सा नलिन कोटड़िया को आंगड़िया से भेजने की बात कबूल की है। उधर, रकम लेने वाले नानकू आहिर को सीआईडी क्राइम पूछताछ के लिए गांधीनगर ले आई है। पुलिस ने नानकू आहिर के पास से 25 लाख रुपए भी जब्त की है।

    कोटड़िया को दो समन

    बिटकॉइन से काेई संबंध न होने की रट लगाने वाले विधायक नलिन कोटड़िया को सीआईडी ने हाजिर होने के लिए दो समन भेजा है। समन के बावजूद नलिन कोटड़िया सीआईटी के समक्ष हाजिर नहीं हुए। दूसरी ओर सीआईडी की पूछताछ में गिरफ्तार मुख्य साजिशकर्ता किरीट पालडिया ने बिटकॉइन का अमुक हिस्सा नलिन कोटड़िया को पहुंचाने की बात कबूल की है। जिस आधार पर सीआईडी की एक टीम सोमवार को राजकोट पहुंची। नलिन कोटड़िया के नजदीकी माने जा रहे नानकूभाई उर्फ नानू आहिर ने पूछताछ में बताया कि उन्हें कोटड़िया की ओर से भेजे गए आंगड़िया से 25 लाख रुपए मिली है। सीआईडी क्राइम 25 लाख रुपए जब्त कर नानकू को पूछताछ के लिए गांधीनगर लेकर आई है।

    मोदी-शाह से की है शिकायत

    नलिन कोटड़िया ने कहा कि 240 करोड़ के बिटकॉइन मामले में प्रधानमंत्री, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय गृहमंत्री, मुख्यमंत्री, गृह राज्यमंत्री, पुलिस अधीक्षक और मानवाधिकार आयोग में पत्र लिखकर शिकायत की है।

  • 240 करोड़ का घोटाला दबाने के लिए हो सकता है मेरा एनकाउंटर-कोटड़िया
    +1और स्लाइड देखें
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Rajkot

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×