--Advertisement--

6 साल की मासूम को लगती है चोट तो नहीं होता दर्द, दुनिया में सिर्फ 20 लोगों को है ये दुर्लभ बीमारी

माता-पिता को है चिंता कि सीफा जोखिम वाली शरारतें करते हुए जान खतरे में न डाल दे

Danik Bhaskar | May 24, 2018, 02:58 AM IST
शरीर पर चोटों के 30 निशान शरीर पर चोटों के 30 निशान

सूरत. दर्द कोई भी हो, तकलीफ तो होती ही है। लेकिन सूरत में रहने वाली 6 साल की सीफा का दर्द से कभी कोई वास्ता ही नहीं पड़ा। उसे बेदर्द भी कह सकते हैं, क्योंकि चोट लगने के बावजूद भी उसे दर्द नहीं होता। इतना जरूर है कि चोट उसे लगती है तो दर्द महसूस करते हैं उसके मां-बाप। जलने, कटने, गिरने से सीफा को 30 छोटी-बड़ी चोट लग चुकी हैं। टांके लगे हैं, लेकिन सीफा के शरीर पर निशान जरूर पड़े, लेकिन दर्द काेसों दूर रहा। ये है पूरा मामला...


रूस्तमपुरा में रहने वाले मोहसीन पठान के तीन बच्चों में सीफा दूसरे नंबर की बेटी है। वो तीसरी में पढ़ती है। दरअसल, वो ‘कंजेनिटल इन्सेंसिटिविटी टू पेन’ नामक बीमारी से पीड़ित है, जिसे साधारण भाषा में पेनलेस सिंड्रोम कहा जाता है। उसका इलाज कर रहे डॉक्टरों के मुताबिक यह ऐसी बीमारी है, जिसका कोई इलाज नहीं है। दुनियाभर में इस बीमारी का कोई इलाज नहीं ढूंढा जा सका है। ासीफा का 3 साल से इलाज कर रहे पुरानी सिविल अस्पताल के मेडिकल ऑफिसर डॉ. शक्ति का दावा है कि यह भारत का इकलौता मामला है। दुनियाभर में ऐसे 20 मरीज सामने आए हैं।

डेढ़ महीने बाद पता चला कि एक हाथ टूटा है

आठ महीने की थी तब बाएं हाथ में फ्रैक्चर हो गया था। एक हाथ का मूवमेंट कम होने पर पुरानी सिविल अस्पताल में एक्सरे करवाया तो पता चला था। 3 साल की थी तब हाथ में सरिया घुस गया। खून बह रहा था, परिजन रुआंसे थे, लेकिन टांके लगाने के दौरान भी सीफा नहीं रोई। मां नजीरा बानो को यही चिंता सताती है कि सीफा जोखिम वाली शरारतें करते हुए जान खतरे में न डाल दे।

महसूस सब होता है, सिवाय दर्द के... शरीर पर चोटों के 30 निशान

सीफा ने पैदा होते ही रोने की बजाय मुस्करा कर सबको आश्चर्य में डाल दिया था। यह शरीर के किसी हिस्से के सुन्न होने या लकवा जैसी स्थिति भी नहीं है। क्योंकि सीफा के शरीर का हर हिस्सा हर हरकत को महसूस करता है सिवाय दर्द के। यानी कि स्पर्श से लेकर हर काम आसानी से कर लेती है। मुंबई स्थित कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल की कंसलटेंट पीडियाट्रिशियन न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. प्रदन्या गाडगिल के मुताबिक पेन साइबर सेंसर नर्व्स से जुड़ी किसी समस्या के चलते ऐसा हो सकता है। खास तरह की ये नर्व्स दिमाग को दर्द वाला संकेत नहीं पहुंचा पा रही होगी।