--Advertisement--

8 साल के बच्चे ने लगाई फांसीः कुर्सी के ऊपर गद्दा रखा फिर भी पंखे तक न पहुंचा तो रखे 4-5 तकिए

सूरत में इतनी कम उम्र में सुसाइड का यह पहला केस है।

Dainik Bhaskar

Jun 21, 2018, 03:09 PM IST

सूरत. शहर में एक 8 साल के दूसरी क्लास के बच्चे ने अपने घर में फांसी लगाकर सुसाइड कर ली। सूरत में इतनी कम उम्र में सुसाइड का यह पहला केस है। बच्चे की मां अन्य महिलाओं से बात कर रही थी इसी दौरान उनके बेटे ने यह कदम उठा लिया। ये था पूरा मामला...

- उमंग रेसिडेंसी में रहने वाले संजय पटेल के क्लास-2 में पढ़ने वाले बच्चे को ब्रेन ट्यूमर था।

- पुलिस ने बताया कि मां दरवाजे पर अन्य दो महिलाओं के साथ बात कर रही थी। अक्षय ने नायलोन की रस्सी खोजकर पंखे में बांधने की कोशिश की तो छोटा पड़ गया।

- अक्षय ने कुर्सी लगाकर उस पर एक गद्दा और चार-पांच तकिया रखा। उसके बाद पंखे में रस्सी बांधकर फांसी लगा ली।

- कुछ समय बाद जब अक्षय बाहर नहीं निकला तो मां ने घर में जाकर देखा तो वहां का दृश्य देख वो सुध-बुध खो बैठी और जमीन पर गिर गई।

- जानकारी मिलते ही सहायक पुलिस कमिश्नर आरडी फलदू सहित कई पुलिस अधिकारी घटना स्थल पर पहुंच गए।

- पुलिस ने हत्या की आशंका भी व्यक्त की है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद वास्तविकता सामने आएगी। वहीं ये भी अनुमान है कि बीमारी के कारण तनाव में उसने ऐसा कदम उठाया होगा।

टीवी पर ऐसे दृश्य देखने से ऐसी घटना संभव

- मनोचिकित्सक डाॅ. मुकुल चोकसी के अनुसार हो सकता है कि बच्चे ने टीवी पर ऐसा कोई दृश्य देखा हो। तनाव में आकर भी बच्चा इस तरह का कदम उठा सकता है।

एसीपी ने हत्या बताया: एसीपी आरडी फलदू ने कहा कि 8 वर्ष की उम्र में इस तरह से फांसी लगाना संभव नहीं लगता। पोस्टमार्टम के बाद ही सब साफ होगा।

X
Bhaskar Whatsapp