--Advertisement--

गुजरात : नर्मदा का पानी शुद्ध रखने के लिए काटे जा रहे 1.70 लाख पेड़

138-122 मीटर क्षेत्र के दायरे में आने वाले पेड़ शामिल

Dainik Bhaskar

Mar 06, 2018, 08:35 AM IST
1.70 lakh trees being bitten to keep Narmada water clean in gujarat

राजपीपला. जल संकट से जूझ रहे गुजरात में 1.70 लाख पेड़ों की कटाई शुरू हो गई है। ये पेड़ नर्मदा बांध के डूब क्षेत्र में आ रहे हैं। बांध के पानी को शुद्ध रखने के लिए इन पेड़ों की कटाई शुरू की गई है। ये पेड़ बांध के 138 से 122 मीटर के दायरे में आते हैं। ये पेड़ गुजरात के अलावा महाराष्ट्र में भी हैं।

- दरअसल, नर्मदा बांध पर 30 दरवाजे लगने से बांध की ऊंचाई 138.68 मीटर हो गई है। ऊंचाई बढ़ने से जल संग्रह क्षमता में भी वृद्धि हुई है। जल संकट के मद्देनजर गुजरात को बांध की संग्रहित जलराशि के अधिकतम प्रयोग की इजाजत मिली है। ऐसे में बांध के पानी को शुद्ध रखना जरूरी है।

- नर्मदा के डीएफओ डाॅ. के. शशिकुमार ने बताया कि नर्मदा बांध की ऊंचाई बढ़ने से इसके डूब क्षेत्र में आने वाले पेड़ों को पहले काटा गया था। हालांकि ये फिर उग गए। ऐसा फिर न हो इसलिए कटाई शुरू की गई है। पानी में डूबे पेड़ों के सड़ने से पानी गंदा होता है। सरदार सरोवर नर्मदा बांध का पानी शुद्ध रखने के लिए ऐसा किया जा रहा है।

गुजरात-महाराष्ट्र के क्षेत्र में हैं इतने पेड़
90 हजार बांध के कैचमेंट एरिया में
58 हजार महाराष्ट्र के वनक्षेत्र में
13 हजार छोटा उदेपुर में
10 हजार क्वांट के वन क्षेत्र में

1.70 lakh trees being bitten to keep Narmada water clean in gujarat
X
1.70 lakh trees being bitten to keep Narmada water clean in gujarat
1.70 lakh trees being bitten to keep Narmada water clean in gujarat
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..