--Advertisement--

ये सेल्फी 9 लड़कों के लिए साबित हुई आखिरी, एक साथ हुअा सभी का अंतिम संस्कार

मारे गए 9 लड़कों में से छह अपने माता-पिता की इकलौती संतान थे।

Dainik Bhaskar

Jan 16, 2018, 05:15 AM IST
अर्थी में साथ विदा हुए 9 दोस्तों और हादसे से पहले साथ ली गई उनकी आखिरी सेल्फी। अर्थी में साथ विदा हुए 9 दोस्तों और हादसे से पहले साथ ली गई उनकी आखिरी सेल्फी।

जेतपुर. गुजरात के कच्छ में रविवार को कार-बस के बीच भिड़ंत में कार सवार नौ युवकों की मौत हो गई और पांच अन्य घायल हो गए। इनमें से छह अपने माता-पिता की इकलौती संतान थे। इन दोस्तों ने सफर के दौरान सेल्फी भी ली थी। जो उनकी जिंदगी की आखिरी सेल्फी साबित हुई। इन्हीं में से हार्दिक बांभरोलिया नाम के युवक की 22 जनवरी को शादी होने वाली थी। सभी मृतकों उनके शव को गांव लाया गया। गांव से एक साथ 9 अर्थियां उठीँ, तो पूरा गांव रो पड़ा।

इतनी भयानक थी टक्कर

- जानकारी के मुताबिक, मकर संक्रांति पर मोटा गुंदाणा गांव से घूमने के लिए कुछ युवक कार नम्बर GJ-EC-3681 से निकले थे। कच्छ के लोरिया गांव के पास उनकी कार एक निजी बस से टकरा गई। यह टक्कर इतनी भयानक थी कि 9 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। 5 लोग घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया है।

- भुज से सभी के शवों को जब उनके गांव पहुंचाया गया, तो पूरे गांव पर मानों कहर ही टूट पड़ा। इस शोक में गांव पूरी तरह से बंद रहा। ग्रामीणों ने बंद रखकर दिवंगत बेटों को अंतिम विदाई दी।

हादसे में मृतकों के नाम-

हार्दिक रजनीकांत बांभरोलिया, राज सेंजलिया, जयदीप बूटाणी, प्रशांत साकलिया पीयूष खोखर,-गौरव कोटडीया, विजय डोबरिया, मयूर पटेल, मिलन पटेल।

कार-बस के बीच भिड़ंत में गई कार सवार नौ युवकों की जान। कार-बस के बीच भिड़ंत में गई कार सवार नौ युवकों की जान।
भुज से सभी के शवों को जब उनके गांव पहुंचाया गया, तो पूरे गांव पर मानों कहर ही टूट पड़ा। भुज से सभी के शवों को जब उनके गांव पहुंचाया गया, तो पूरे गांव पर मानों कहर ही टूट पड़ा।
इस शोक में गांव पूरी तरह से बंद रहा। इस शोक में गांव पूरी तरह से बंद रहा।
9  दोस्तों की अंतिम यात्रा में शामिल हुए आसपास के गांव के सैकड़ों लोग। 9 दोस्तों की अंतिम यात्रा में शामिल हुए आसपास के गांव के सैकड़ों लोग।
ग्रामीणों ने बंद रखकर दिवंगत बेटों को अंतिम विदाई दी। ग्रामीणों ने बंद रखकर दिवंगत बेटों को अंतिम विदाई दी।
X
अर्थी में साथ विदा हुए 9 दोस्तों और हादसे से पहले साथ ली गई उनकी आखिरी सेल्फी।अर्थी में साथ विदा हुए 9 दोस्तों और हादसे से पहले साथ ली गई उनकी आखिरी सेल्फी।
कार-बस के बीच भिड़ंत में गई कार सवार नौ युवकों की जान।कार-बस के बीच भिड़ंत में गई कार सवार नौ युवकों की जान।
भुज से सभी के शवों को जब उनके गांव पहुंचाया गया, तो पूरे गांव पर मानों कहर ही टूट पड़ा।भुज से सभी के शवों को जब उनके गांव पहुंचाया गया, तो पूरे गांव पर मानों कहर ही टूट पड़ा।
इस शोक में गांव पूरी तरह से बंद रहा।इस शोक में गांव पूरी तरह से बंद रहा।
9  दोस्तों की अंतिम यात्रा में शामिल हुए आसपास के गांव के सैकड़ों लोग।9 दोस्तों की अंतिम यात्रा में शामिल हुए आसपास के गांव के सैकड़ों लोग।
ग्रामीणों ने बंद रखकर दिवंगत बेटों को अंतिम विदाई दी।ग्रामीणों ने बंद रखकर दिवंगत बेटों को अंतिम विदाई दी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..