Hindi News »Gujarat »Surat» Action Against Padmavat Controversy Protetsrers

अहमदाबाद में सिनेमाहॉल में हुई हिंसा में 44 अरेस्ट, RPF ने किया फ्लैग मार्च

उपद्रव से निपटने आरएएफ की चार कंपनियों की तैनाती की जा रही हैं।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 25, 2018, 08:56 AM IST

अहमदाबाद.अहमदाबाद में पद्मावत फिल्म के विरोध में हुई हिंसा में पुलिस ने चार मुकदमे दर्ज कर कम से 44 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया है जबकि लगभग 70 अन्य को अब तक चिन्हित किया गया है। बुधवार को फिल्म के रिलीज से एक दिन पहले अहमदाबाद में दंगा निरोधक रैपिड एक्शन फोर्स यानी त्वरित कार्यबल के जवानों का फ्लैग मार्च कराया गया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरएएफ की चार कंपनियों की तैनाती की जा रही है ताकि किसी तरह के उपद्रव से निपटा जा सके। मल्टीप्लेक्स मालिकों के संगठन गुजरात मल्टीप्लेक्स आनर्स एसोसिएशन ने फिल्म को प्रदर्शित नहीं करने का फैसला लिया है।

तोड़फोड़ के पीछे शरारती तत्व
राजपूत करणी सेना ने हिंसा की कड़े शब्दों ने निंदा की। सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष लोकेन्द्रसिंह कालवी ने कहा कि करणी सेना पद्मावत फिल्म का विरोध कर रही है पर तोड़फोड़ और आगजनी कर हिंसा फैलाना करणी सेना का काम नहीं है। इसके पीछे शरारती तत्वों का हाथ हो सकता है।वडोदरा में एक्सप्रेस वे पर करणी सेना ने चक्का जाम कर दिया। उधर उत्तर गुजरात के बनासकांठा के थरा थाने के उण गांव के निकट पालनपुर से भुज जा रही एक सरकारी बस पर पद्मावत विरोधी प्रदर्शनकारियों ने हमला कर दिया। इस घटना में चालक समेत छह लोग घायल हो गए। बस के शीशे टूट गए पर इसमें आगजनी का प्रयास विफल हो गया। घायल चालक ने बस को थाने में पहुंचा दिया।

सीएम रूपाणी ने बुलाई बैठक
विरोध प्रदर्शनाें को थामने में सरकार पर ढुलमुल रुख अपनाने के आरोपों के बीच बुधवार को मुख्यमंत्री ने अपने आवास पर उपमुख्यमंत्री की मौजूदगी में बैठक की। राजपूत संगठनों के साथ इसी समुदाय के दो वरिष्ठ मंत्री और सरकार से जुड़े अन्य राजपूत नेताओं की भी एक बैठक हुई।

तोड़फोड़ के पीछे शरारती तत्व
राजपूत करणी सेना ने हिंसा की कड़े शब्दों ने निंदा की। सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष लोकेन्द्रसिंह कालवी ने कहा कि करणी सेना पद्मावत फिल्म का विरोध कर रही है पर तोड़फोड़ और आगजनी कर हिंसा फैलाना करणी सेना का काम नहीं है। इसके पीछे शरारती तत्वों का हाथ हो सकता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×