--Advertisement--

अल्पेश और हार्दिक के बीच बंद कमरे में बैठक, सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने की तैयारी

इस बारे में हार्दिक पटेल ने बताया कि मैं अभी मीटिंग में हूं बाद में बात करूंगा, लेकिन मेवाणी ने कोई जवाब नहीं दिया।

Danik Bhaskar | Dec 20, 2017, 06:48 AM IST
सोमवार को परिणाम आने के बाद हा सोमवार को परिणाम आने के बाद हा

गांधीनगर. चुनाव परिणाम आने के बाद दो आंदोलनकारियों हार्दिक पटेल और जिग्नेश मेवाणी के बीच शुभेच्छा मुलाकात के बहाने बंद कमरे में बैठक हुई। सूत्रों के अनुसार हार्दिक और जिग्नेश मेवाणी ने आने वाले दिनों में सरकार को घेरने की रणनीति बनाई। वडनगर सीट से निर्दलीय के रूप में चुने जाने के बाद जिग्नेश मेवाणी का रोल क्या होगा, इस बारे में हार्दिक पटेल ने सलाह दी। हार्दिक पटेल बाहर से और जिग्नेश मेवाणी भीतर से सरकार को घेरने की योजना बनाई है। विधानसभा परिणाम आने के बाद अहमदाबाद में पास नेता हार्दिक पटेल और वडनगर के विजयी उम्मीदवार जिग्नेश मेवाणी ने बंद कमरे में घंटों तक चर्चा की।

हार्दिक बताया- मैं अभी मीटिंग में हूं बाद में बात करूंगा, मेवाणी ने कोई जवाब नहीं दिया

- सूत्रों की मानें ताे जिग्नेश मेवाणी वडनगर से मेघाणीनगर जाने के बदले सीधे हार्दिक पटेल से मिले। जिसमें आगे की रणनीति और आंदोलन का ग्राफ तैयार किया।

- इस बारे में हार्दिक पटेल ने बताया कि मैं अभी मीटिंग में हूं बाद में बात करूंगा, लेकिन मेवाणी ने कोई जवाब नहीं दिया।

- सोमवार को परिणाम आने के बाद हार्दिक पटेल ने जिग्नेश मेवाणी और अल्पेश ठाकोर को जीत की बधाई दी। हार्दिक ने ट्वीट किया कि समाज के अधिकार की लड़ाई में हम साथ-साथ हैं।

शपथ से पहले जिग्नेश के विधायक लिखने पर विवाद

- वडगांव सीट से चुनाव जीते निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी पहले ही दिन जनसमस्या को लेकर कलेक्ट्रेट पहुंच गए। शपथ लेने से पहले ही आवेदन पत्र में विधायक लिखने से भारी विवाद उठ खड़ा हुआ है।

- पालनपुर के कलेक्टर को सौंपे आवेदन में उन्हाेंने लिखा है कि वडगांव तहसील के आंतरिक गांवों की मुलाकात के दौरान रास्ते की समस्या ध्यान में आई है। रास्ता खराब होने के कारण ग्रामीणों को आने-जाने में काफी दिक्कतें होती है। गांव के सभी रास्तों को दुरूस्त करने की मांग की है। जल्द रास्ते ठीक न होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी भी दी है।