Hindi News »Gujarat »Surat» Attempt To Charging Mobile Causes Rajkot Fire Accident

लड़की ने लैंप निकालकर लगाया मोबाइल चार्जर, भड़की आग में झुलस गईं 21 लड़कियां

अपना छूटा सामान लेने अंदर गई लड़की पर जलता हुआ टेंट गिरने से वह झुलस गई।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 14, 2018, 12:49 AM IST

राजकोट.गुजरात के राजकोट में राष्ट्रभक्ति का संदेश देने के लिए ऑर्गनाइज राष्ट्रकथा कैम्प में शुक्रवार देर रात आग लगने से तीन लड़कियों की मौत हो गई और 13 गंभीर रूप से जख्मी हो गईं। एक हफ्ते पहले शुरू हुए स्वामी धर्मबंधु महाराज के इस कैम्प का शनिवार को अाखिरी दिन था। इसमें लगभग 12,000 लोग हिस्सा ले रहे थे। शुक्रवार रात साढ़े ग्यारह बजे शार्ट सर्किट से लड़कियों के टेंट में आग लग गई। जिसने अन्य टेंट को भी चपेट में ले लिया और कुल 47 टेंट जल कर खाक हो गए।

लैंप निकालकर मोबाइल चार्जर लगाने की कोशिश में भड़की आग

कैम्प में शामिल होने आई कृपा सोलंकी हादसे की चश्मदीद हैं। कृपा ने बताया " कैम्प कैम्पस के टेंट में आग एक एक लड़की के मोबाइल चार्ज करने की कोशश में लगी। शुक्रवार देर शाम कल्चरल प्रोग्राम के बाद सभी लोग सोने गए। इसी दौरान सूरत की एक लड़की ने मोबाइल चार्जर करने के लिए टेंट में लगा लैम्प निकाल कर चार्जर लगाया, इससे शॉर्ट सर्किट हुआ और आग भभक गई। देखते-ही-देखते आग ने भयंकर रूप अख्तियार कर लिया और आसपास के टेंट को भी आग ने चपेट में ले लिया। हमने कृपाली को बचाते हुए बाहर निकाल लिया था, लेकिन उसका सामान कैम्प में रह गया, जिसे लेने के लिए वह दाेबारा अंदर चली गई। इसी दौरान जलता हुआ टेंट सिर पर गिरने से वह झुलस गई। वहां मौजूद खुशी गोधविया भी झुलस गई। दोनों का इलाज चल रहा है।"

विक्टिम्स में असम-तमिलनाडु के भी

- कैम्प में झुलसी 21 लड़कियों में एक तमिलनाडु और दो असम की हैं। असम की हबीबा सुलताना (15) और लीलिया खातुर उमान अली (15) और तमिलनाडु के प्रतीक नायक (17) शामिल हैं। अन्य पीड़ित गुजरात के अलग-अलग हिस्सों के हैं।

- इस घटना में मोरबी की कृपाली दवे, सायला की वनिता जमोड और जसदन की किंजल की मौत हो गई। 13 अन्य छात्राएं जख्मी हो गईं। सबकी उम्र 16 से 17 साल है। पांच गंभीर जख्मी लड़कियों को राजकोट भेजा गया है।

- मौके पर पैरामिल्ट्री फोर्स के जवानों के होने के चलते कई लोगों को वक्त रहते बचाया जा सका। आग पर तीन-चार घंटे की मशक्कत के बाद काबू पाया जा सका।

क्या है ये राष्ट्रकथा कैम्प?

स्वामी धर्मबंधु हर साल कैम्प आॅर्गनाइज करते हैं। ये रेसिडेंशियल कैम्प होता है। गुजरात सहित देशभर से स्टूडेंट्स इसमें हिस्सा लेने आते हैं। पॉलिटिक्स, एडमिनिस्ट्रेशन और स्पोर्ट्स के जाने-पहचाने लोग कैम्प को एड्रेस करते हैं। हर साल होने वाले इस कैम्प में पूर्व में क्रिकेटर सचिन तेंडुलकर समेत कई दिग्गज भाग ले चुके हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×