--Advertisement--

बीजेपी का गुतरात मेनिफेस्टो जारी: जातिवाद, वंशवाद संप्रदायवाद से मुक्ति का संकल्प : अरुण जेटली

आखिरकार भाजपा ने जारी किया गुजरात चुनाव का संकल्प पत्र, विकास की दर को बनाए रखने का उद्देश्य।

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2017, 06:28 AM IST
भाजपा के चुनाव प्रभारी और केंद भाजपा के चुनाव प्रभारी और केंद

अहमदाबाद. सत्तारूढ़ बीजेपी ने गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए घोषणा-पत्र जारी होने में विलंब को लेकर विपक्ष की आलोचनाओं के बीच शुक्रवार को आखिरकार अपना संकल्प पत्र जारी कर दिया। जिसमें कृषि आय दोगुनी करने, गैर आरक्षित वर्ग को शैक्षणिक संस्थाओं में लाभ देने समेत कई बातें शामिल की गई हैं। केंद्रीय वित्त मंत्री तथा गुजरात में पार्टी के चुनाव प्रभारी अरूण जेटली ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जीतू वाघाणी और गुजरात प्रभारी भूपेन्द्र यादव की मौजूदगी में पार्टी के मीडिया सेंटर में इसे जारी किया।

संकल्प पत्र में एकमात्र उद्देश्य विकास की इस दर को बनाए रखना

उन्होंने कहा कि शनिवार को पहले चरण के चुनाव के चलते चुनाव संहिता के प्रावधानों को देखते हुए संकल्प पत्र पर मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री अथवा प्रदेश अध्यक्ष के चित्र नहीं हैं क्योंकि ये सभी चुनाव लड़ रहे हैं। इसे शनिवार को मतदान के बाद पांच बजे चित्र के साथ फिर से जारी किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि देश दुनिया में आर्थिक मंदी के बावजूद गुजरात में पिछले पांच साल में 10 प्रतिशत की दर से विकास हुआ है। इसने चीन को भी पीछे छोड़ दिया है जहां अब यह साढ़े छह प्रतिशत पर आ गया है। संकल्प पत्र में एकमात्र उद्देश्य विकास की इस दर को बनाए रखने को बनाया गया है।

बीजेपी के संकल्प पत्र की मुख्य बातें

- किसानों को ब्याजमुक्त लोन की व्यवस्था
- तकनीक के आधार पर खेती का आधुनिकीकरण
- कम दाम पर खाद, बीज और कृषि उपकरण मुहैया कराए जाएंगे
- सभी खेतों को सिंचाई के लिए पानी
- गुजरात ओलंपिक मिशन का गठन
- रोजगारोन्मुख नए औद्योगिक क्षेत्रों की स्थापना
- महिलाओं को नि:शुल्क उच्च शिक्षा
- स्वास्थ्य समस्याओं का निराकरण
- विधवा पेंशन में समय-समय पर वृद्धि
- विश्वस्तरीय विश्वविद्यालयों का निर्माण
- निजी स्कूलों में फीस नियंत्रण कानून पर अमलीकरण
- मोबाइल क्लीनिक और तहसील स्तर पर 252 सरकारी डायग्नोस्टिक लेबोरेटी की स्थापना
- जेनेरिक और सस्ती दवाओं के केंद्र बढ़ेंगे
- गरीब परिवारों को 2022 तक पक्के मकान, हर घर में शौचालय और नल कनेक्शन की सुविधा होगी
- सूरत और वडोदरा में मेट्रो ट्रेन, मुख्य शहरों में एयरकंडीशन बस की सुविधा
- जिला आदिवासी कल्याण बोर्ड का गठन
- लघु और मध्यम उद्योगाें को सस्ती दरों पर लोन
- गांवों का सर्वांगीण विकास, स्वच्छ और सुविधायुक्त होंगे शहर
- ठाकुर और कोली की ग्रांट दोगुना होगी
- विचरण करने और विमुक्त जातियों और अनुसूचित जाति, श्रमिकों का उत्थान
- लारी-गल्ला और फुटपाथ के लिए हॉकिंग जोन बनेगा
- अगरिया समुदाय के लिए विशेष योजना
- महाशिवरात्रि और लीली परिक्रमा के दौरान सभी अखाड़ों को आर्थिक अनुदान
- दलित श्रमिकों को आर्थिक मदद
- कम दाम वाली भोजन योजना का सभी शहरों में विस्तार
- सरकारी सुविधाएं लोगों के घर तक
- बंद सहकारी संस्थाओं को फिर से कार्यरत करने पर जोर
- सेमीकंडक्टर और टेलीकम्युनिकेशन के उपकरणों के उद्योगों लिए नई नीति

जेटली ने कहा-चुनाव में झूठे वादे कर रही है कांग्रेस
जेटली ने कांग्रेस पर झूठे वादे करने का आरोप लगाया। बीजेपी सभी समुदायों के बीच एकता और विकास के लिए काम करती रहेगी। उन्होंने कहा कि इलेक्शन कोड ऑफ कंडक्ट की वजह से हम 48 घंटे पहले फोटोज के साथ संकल्प पत्र जारी नहीं कर सकते थे। इसलिए तस्वीरों के बिना ही इसे जारी किया जा रहा है।

गुजरात को लेकर बीजेपी के पास कोई दृष्टि नहीं : कांग्रेस

- कांग्रेस ने आरोप लगाया कि गुजरात को लेकर राज्य में सत्तारुढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी)के पास न तो कोई दृष्टि है और न ही कोई कार्यक्रम जबकि उसके पास विकास का नया रास्ता है।

- कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राज्य में पहले चरण का चुनाव शनिवार को हाेने वाला है जबकि बीजेपी एक दिन पहले संकल्प पत्र जारी करके राजनीतिक जुमलेबाजी कर रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पार्टी की पराजय से बौखलाए हुए हैं और स्थानीय मुद्दों की जगह चीन, पाकिस्तान और अफगानिस्तान का मुद्दा उठा रहे हैं। वह तेरहवीं से 17वीं सदी के मुद्दों की चर्चा कर रहे हैं ।

- उन्होंने कहा कि पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुजरात के साढ़े छह करोड़ लोगों की पीड़ा और विकास की बात कर रहे हैं तथा उसे नया रास्ता दिखा रहे हैं। राहुल गांधी आदिवासियों के जल, जंगल और जमीन की बात कर रहे हैं और विकास को लेकर मोदी से सवाल पूछ रहे हैं। वह आदिवासियों के कुपोषण और रोजी-रोटी पर सवाल पूछ रहे हैं।

- सुरजेवाला ने कहा कि गांधी ने गुजरात को लेकर दस मुद्दे उठाए हैं लेकिन बीजेपी किसी मुद्दे पर बात करने से बच रही है। उन्होंने कहा कि लोग परिस्थितियों को समझ रहे हैं और चुनाव परिणामों में वह जाहिर होगा। इससे पाटीदारों को आरक्षण नहीं मिलेगा।

X
भाजपा के चुनाव प्रभारी और केंदभाजपा के चुनाव प्रभारी और केंद
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..