Hindi News »Gujarat »Surat» Bjp In Loss By Movemets

Analysis : गुजरात में आंदोलन से पहली बार बीजेपी को नुकसान

इस बार फिर जातीय आधार पर चुनाव हुआ। इससे बीजेपी को नुकसान हुआ।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 19, 2017, 05:48 AM IST

  • Analysis : गुजरात में आंदोलन से पहली बार बीजेपी को नुकसान
    +3और स्लाइड देखें
    माधव सिंह सोलंकी। -फाइल फोटो।

    सूरत. गुजरात में आंदोलनों से ही बीजेपी का उदय हुआ। मंडल कमीशन के बाद राज्य में बीजेपी का कद बढ़ा। राम मंदिर आंदोलन राज्य में आधार बढ़ा और 1995 में पहली बार सत्ता में आई। तब से लगातार बीजेपी जीतती आई है। 80 के दशक के खाम विवाद के चलते कांग्रेस को सत्ता गंवाई पड़ी। इस बार फिर जातीय आधार पर चुनाव हुआ। इससे बीजेपी को नुकसान हुआ।

    माधव सिंह सोलंकी (1976-77 / 1980-85/ 1989-90)

    काम : थ्यौरी मतलब क्षत्रिय, दलित, आदिवासी, मुस्लिम। इन्हें लामबंद किया-ये प्रयोग ‘खाम’ कहलाया।
    182 में से 149 पर जीत: नवनिर्माण आंदोलन के बाद राज्य में कांग्रेस कम जोर हुई थी। ‘खाम’ के प्रयोग के चलते विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 182 में से 149 सीटें जीतीं।

    मंत्रिमंडल में ‘खाम’ :माधव सिंह सोलंकी की बतौर मुख्यमंत्री पहली पारी में छह सवर्ण और 12 ‘खाम’ चेहरों को जगह मिली।

    चिमनभाई पटेल(1973-74,1990-94)

    नव-निर्माण आंदोलन :महंगाई-भ्रष्टाचार के खिलाफ बिगुल

    हुआ क्या :कांग्रेस की पहली बड़ी हार। विस चुनाव में कांग्रेस 75 सीटों पर सिमटी।

    आरक्षण के खिलाफ जंग

    हुआ क्या :बीजेपी का उदय। गुजरात में बीजेपी का वर्चस्व बढा।

    अमर सिंह चौधरी(1985-1989)

    रिजर्वेशनवापस लिया : मुख्यमंत्री बनते ही अतिरिक्त दिए गए 18 फीसदी रिजर्वेशन को वापस लेकर चौधरी ने प्रभाव बनाया।

    असर :1984 में कांग्रेस की लहर रही, लेकिन 1990 के चुनाव में कांग्रेस को 33 सीट मिली।

    पहले आदिवासी मुख्यमंत्री: अमर सिंह चौधरी गुजरात के पहले आदिवासी मुख्यमंत्री बने।

    नरेंद्र मोदी (2001-2014)

    गोधरा कांड-दंगे

    मोदी 2001 में मुख्यमंत्री बने। साल 2002 में दंगे हुए। बहुत तबाही हुई।

    विकास:छवि सुधार पर मोदी दृढ़। विकास और गुजरात मॉडल के सहारे कामयाब।

    छवि को नुकसान: हिंदूवादी की छवि बनी। सांप्रदायिक नेता का तमगा भी।

  • Analysis : गुजरात में आंदोलन से पहली बार बीजेपी को नुकसान
    +3और स्लाइड देखें
    नरेंद्र मोदी। -फाइल फोटो।
  • Analysis : गुजरात में आंदोलन से पहली बार बीजेपी को नुकसान
    +3और स्लाइड देखें
    चिमनभाई पटेल। -फाइल फोटो।
  • Analysis : गुजरात में आंदोलन से पहली बार बीजेपी को नुकसान
    +3और स्लाइड देखें
    अमर सिंह चौधरी अौर साथ में नरेन्द्र माेदी। -फाइल फोटो।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×