--Advertisement--

बजट सुधार 1 अप्रैल से लागू, असेसमेंट में गलती पर 10 हजार की पेनल्टी

फार्म भरने में देरी की तो हर दिन 1 हजार पेनल्टी

Dainik Bhaskar

Mar 11, 2018, 06:52 AM IST
Budget reforms effective from 1st April

सूरत. चालू वित्त वर्ष में केंद्रीय बजट में किए गए टैक्स सुधार को एक अप्रैल से लागू होना है, जिससे सामान्य करदाता, सीए, बैंक, ज्वेलर्स और ऑटो डीलर सभी प्रभावी होंगे। विशेषतौर पर वह लोग जो देरी से इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करते हैं, ऐसे करदाताओं को दस हजार रुपए तक पेनल्टी देनी पड़ेगी। इन सुधारों को लेकर शहर के सीए द्वारा करदाताओं को असेसमेंट में गलती न कर सतर्क रहने की सलाह आयकर अधिकारियों द्वारा दी गई है।

- सामान्य तौर से कई करदाता मार्च एंडिंग में ही रिटर्न फाइल करते हैं। इस तरह करने से यह माना जाता है कि स्क्रूटनी सलेक्शन नहीं होता है। 31 जुलाई और 30 सितंबर की तय डेट तक रिटर्न फाइल न कर दिसंबर में फाइल किए जाने पर पांच हजार पेनल्टी और मार्च तक रिटर्न फाइल करने पर दस हजार पेनल्टी लगेगी।

- वहीं सहकारी मंडली, पब्लिक चेरिटेबल ट्रस्ट, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट और अस्पताल को भी समय रहते रिटर्न फाइल करना पड़ेगा। ऐसा नहीं करने की स्थिति में डिडक्शन के मिलने वाले लाभ से वंचित रहना पड़ेगा। इतना ही नहीं अधिक टैक्स अदा करना पड़ेगा। लिमिटेड कंपनियां जो लोन और एडवांस देती हैं। उन्हें ट्रांजेक्शन, करंट अकाउंट के ट्रांजेक्शन, शॉर्ट टर्म लोन और क्रेडिट्स बैलेंस पर भी 30 फीसदी टैक्स लगेगा।

200 फीसदी जुर्माना

- वर्ष 2018-19 के वित्त वर्ष के स्क्रूटनी एसेसमेंट के रिटर्न में दिखाई गई आय और असेसमेंट में आय के डिफरेंस पर विशेष स्थिति में 200 फीसदी पेनाल्टी अदा करनी पड़ेगी। पोस्ट ऑफिस, बैंक, सब रजिस्ट्रार ऑफिस, ज्वेलर्स और ऑटो कार डीलर को आयकर विभाग द्वारा दिए गए फार्म को भरने में देरी होने पर प्रतिदिन के 500 रुपए की पेनाल्टी अब से एक हजार रुपए देनी पड़ेगी।

- एक अप्रैल के बाद जो शेयर बेचे जाएंगे उस पर दस फीसदी टैक्स लगेगा। एक लाख रुपए तक कर मुक्ति रहेगी। 1 अक्टूबर 2014 बाद खरीदे गए शेयर पर सिक्योरिटी ट्रांजेक्शन टैक्स अदा न किया गया हो उस पर 10 और 20 फीसदी टैक्स लगेगा।

X
Budget reforms effective from 1st April
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..