Hindi News »Gujarat »Surat» Communal Tension In Surat Gujarat

आरोपियों को पकड़ने गए तो चले पत्थर, पुलिस कह रही- सांप्रदायिक दंगा

एक पुलिस कर्मी घायल, 300 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज, 84 हिरासत में

Bhaskar News | Last Modified - Mar 31, 2018, 05:16 AM IST

आरोपियों को पकड़ने गए तो चले पत्थर, पुलिस कह रही- सांप्रदायिक दंगा

सूरत. गुरुवार की रात कोसाड आवास में बुटलेगरों ने आरोपी को पकड़ने गई पुलिस पर पथराव किया। पथराव के दौरान पत्थर एक धार्मिक स्थल को लग गया, तो पुलिस कह रही यह सांप्रदायिक दंगा है। अमरोली में पुलिस स्टेशन के पीछे 150 मीटर के अंतर पर कोसाड आवास में तीन दिन पहले झगड़ा हुआ था। मामला पुलिस में दर्ज कराया गया था। इस मामले के कुछ आरोपियों को पकड़ने पुलिस कोसाड आवास गई थी। दंगाइयों ने पुलिस पर पथराव किया और कांच की बोतलें फेंकी। मामला इतना बिगड़ गया कि आधे शहर की पुलिस कोसाड आवास में बुला ली गई। लाठी चार्ज करने पर भी जब दंगाई काबू में नहीं आए तो पुलिस ने टीयर गैस छोड़ी। पुलिस ने 300 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस पर हमला करने के लिए लोगों को उकसाने के लिए 84 लोगों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस पर हमला करवाने का मुख्य मास्टरमाइंड लालू जालिम फरार है।


कोसाड में चल रहे शराब के अड्‌डे
अमरोली के कोसाड आवास में खुलेआम शराब और जुए के अड्डे चलते हैं। यहां वर्चस्व के लिए बुटलेगर आपस में अक्सर लड़ते-झगड़ते रहते हैं। आए दिन हंगामा होता रहता है। तीन दिन पहले दुकान बंद कराने को लेकर झगड़ा हुआ था। मामला अमरोली पुलिस स्टेशन में दर्ज हुआ था। गुरुवार की रात अमरोली पुलिस इस मामले आरोपियों को पकड़ने कोसाड आवासा आई थी। आरोपियों को बचाने के लिए बुटलेगरों ने पुलिस पर पथराव कर दिया।

घटनाक्रम: उपद्रवी पुलिस के काबू में नहीं आए, तो छोड़ी आंसू गैस
जब पथराव किया गया तो, पुलिस की संख्या कम थी। दंगाइयों को बेकाबू होते देख आधे शहर की पुलिस बुला ली गई। पुलिस के अधिकतर अधिकारी मौके पर पहुंच गए। पथराव के दौरान निलेश भोपा नामक एएसआई घायल हो गए। उपद्रवियों ने पुलिस की पीसीआर वैन के कांच तोड़ दिए। एक व्यक्ति की मोपेड भी जला दी। पुलिस ने लाठी चार्ज किया, लेकिन उपद्रवी काबू में नहीं आए, तो आंसू गैस छोड़ी गई।

मास्टरमाइंड जालिम फरार
मनु माछी मास्टरमाइंड लालू जालिम का आदमी है। जब पुलिस पर हमला हुआ तब भी लालू जालिम वहां मौजूद था। मौका देखकर लालू जालिम फरार हो गया। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

पैरोल पर आया था हत्यारोपी
लालू उर्फ अमित जालिम हत्या का आरोपी है। वह 8 महीने पहले छापराभाठा रोड पर दीपक गढवी की हत्या मामले में वह गिरफ्तार हुआ था। 6 दिन पहले ही वह दो हफ्ते के पैरोल पर आया था।

पुलिस : दो संप्रदाय के लोगों के बीच हुआ दंगा, हम जांच कर रहे हैं
अमरोली पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर एमबी खीलेरी ने कहा कि दो संप्रदायवालों के बीच दंगा हुआ। कोसाड आवास के निवासी मनु माछी के पिता राधेशाम सहानी की दुकान जबरन बंद कराने हासिम, मनिया, सहदेव, मूलजी, अजय, दीपक और संजू आए थे। इन लोगों ने सहानी की पिटाई की और उनकी दुकान में तोड़फोड़ की। इसी बात पर गुरुवार को फिर झगड़ा हुआ। इस पर दोनों गुट आमने-सामने आ गए।

निजी वाहन में भी लगाई आग

- 700 पुलिस जवान मौके पर बुलाने पड़े।
- 17 आंसू गैस के गोले छोड़े गए।
- 300 लोगों के किलाफ मामला दर्ज।
- 01 पुलिस वैन में की तोड़फोड़।
-01 निजी वाहन जलाया।
-01 पुलिसकर्मी घायल।

48 मिनट चला बवाल

12.00 बजे दो गुटों में झगड़ा शुरू हुआ, पत्थर फेंके गए।

12.10 बजे आरोपी को पकड़ने पुलिस मौके पर पहुंची।

12.10 बजे पर पुलिस पर बुटलेगरों ने पथराव किया।

12.20 बजे से 12.30 तक पुलिस ने लाठी चार्ज किया।

12.30 बजे से 12.48 तक 17 आंसू गैस के गोले छोड़े गए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×