--Advertisement--

धर्मस्थल पर विवाद के बाद माहौल बिगड़ा, 2 गुटों में पथराव; 28 गिरफ्तार

जुलूस के दौरान लिंबायत में तनाव, इंस्पेक्टर सहित 3 पुलिसकर्मी घायल

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 04:35 AM IST
घटनास्थल पर तैनात पुलिस जाप्त घटनास्थल पर तैनात पुलिस जाप्त

सूरत. शहर के लिंबायत क्षेत्र में शनिवार रात दो गुटों में टकराव के मामले में पुलिस ने रविवार तक 28 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। शनिवार रात हनुमान जयंती पर निकाले जा रहे जुलूस के दौरान कुछ शरारती तत्वों ने दूसरे गुट के एक धर्मस्थल पर हमले की अफवाह फैला दी। इससे दोनों गुट की ओर से भीड़ जमा हो गई और पथराव हुआ। चार वाहनों में तोड़फोड़ की गई। पथराव से पुलिस इंस्पेक्टर सहित तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस ने लाठीचार्ज के बाद हवाई फायर कर भीड़ को खदेड़ा। दूसरे दिन रविवार को हालात शांतिपूर्ण रहे।

- दरअसल, अफवाह शनिवार रात 8 बजे फैली थी। कहा गया कि जुलूस के दौरान कुछ युवकों ने एक धर्मस्थल की दीवार पर चढ़कर उसे क्षतिग्रस्त कर दिया। यह धर्मस्थल लिंबायत पुलिस स्टेशन से आधे किलोमीटर दूर मदनपुरा में स्थित है। इसके बाद लिंबायत में दोनों गुट के लोग जमा होने लगे।

- हालात बिगड़ते देख लिंबायत पुलिस स्टेशन के पुलिस इंस्पेक्टर आई.डी.देसाई, हेड कांस्टेबल सिरेस सुरसिंग, देवराम रासेंगभाई, रविन्द्र शरद, रमेश उकाभाई, विजय सूर्यकांत, दिनेश खिमजी कुछ कांस्टेबलों के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस का कहना है कि हनुमान जयंती जुलूस की परमिशन नहीं ली गई थी इस पर अलग से कार्रवाई की जाएगी।

दोनों गुट के ये आरोपी गिरफ्तार
अयाज अबरार अंसारी, अफरोज महमद समशेर अंसारी, मोहम्मद नौशाद मोहम्मद युनुस शेख, अब्दुल खालीक मोहम्मद लालबाबू शेख, फारुख अब्दुल रहीम शेख, फैजल फारुख शेख, फिरोज शा साबीरशा, अमीनशा यासीन शा, उस्मान शा बल्लुशा, इकबाल शा यासीन शा, रमजान शा दगडु शा, आरीफ खान इकबाल खान पठान, अरबाज तरबेज शेख, खजमुद्दीन मोहरम मंसूरी, शकील रमजान शेख, जुबेर जाकिर अंसारी, फिरोज अहमद अब्दुल रहमान अंसारी, रियाज शा रमजान शा, सचिन अंबालाल राजपूत, दीपक अशोक लासुरकर, महेन्द्रभाई गणपतभाई गडरिया, पंकज बालकृष्ण लवगडे, अक्षय नरेन्द्र लवगडे, सागर दिलीप डोगरे, विक्की राजू राजपूत, आकाश नथु पवार, महेन्द्रभाई राजूभाई राजपूत और दत्तात्रेय उर्फ गोलू नरेन्द्र लवगडे को गिरफ्तार कर लिया है।

घायल हुए इंस्पेक्टर ने किया हवाई फायर

- दोनों गुट की भीड़ में कुछ लोग तलवार, पाइप, डंडे आदि लेकर पहुंच गए। पुलिस ने समझाइश की कोशिश की। इस बीच पथराव शुरू हो गया। चार वाहनों में तोड़फोड़ कर दी गई। पुलिस ने लाठीचार्ज कर खदेड़ने की कोशिश की। इंस्पेक्टर आई.डी.देसाई को ईंट लगने पर उन्होंने हवाई फायर कर दिया। हेड कांस्टेबल विजय सूर्यकांत की कलाई और कांस्टेबल उमेश बाबूराव को पैर में पत्थर लगा।