Hindi News »Gujarat »Surat» Whole Family Died Apart Off Girl In Fire Accident In Grocery Shop

किराया बचाने दुकान को ही बनाया घर, गैस से भड़की आग में जिंदा जल गया परिवार

शटर को तोड़ कर खोला तब दुकान में धुंए के अलावा कुछ नजर नहीं आ रहा था।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 10, 2018, 10:22 AM IST

  • किराया बचाने दुकान को ही बनाया घर, गैस से भड़की आग में जिंदा जल गया परिवार
    +7और स्लाइड देखें
    गुजरात के अहमदाबाद में हुआ हादसा- हादसे में पूजा(बच्ची) की मां की मौत के बाद माैसी ने संभाला।

    अहमदाबाद.मंगलवार सुबह किराने की दुकान में आग भड़कने से एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में दुकान चलाने वाले पति-पत्नी, उसका भाई और दो साल का बच्चा शामिल है। उनकी बेटी दो दिन से अपनी बुआ के घर होने की वजह से इस हादसे से बच गई। मकान का किराया बचाने दुकान को ही बनाया आशियाना...

    - पीड़ित परिवार राजस्थान में पाली का रहने वाला है। सात साल पहले बेटी की अच्छा एजूकेशन दिलाने चुनीलाल चौधरी अपने परिवार को लेकर अहमदाबाद आया था। यहां रहने वाले बहनोई की दुकान को किराए पर लिया।

    - वरदान टावर में 'क्षेमाकरी माता' नाम से (10X30) की किराए की दुकान में किराने का धंधा करना शुरू कर दिया। इसी दुकान के पीछे ही परिवार रहता था ताकि मकान का किराया बच सके।

    आग में झुलसी महिला की दुकान का शटर खोलने की कोशिश रही बेकार

    आग लगने की वजह गैस लीकेज मानी जा रहा है। आशंका है कि गैस लीकेज से अनजान परिवार में से किसी ने सुबह गैस जलाई होगी, तभी आग भड़क गई और सब राख हो गया। दुकान में सामान भरा होने की वजह से गैस की बू न आई हो। आग में झुलसी महिला ने दुकान का शटर खोलने की कोशिश की, लेकिन कामयाब न हो सकी।

    शटर तोड़कर अंदर घुसीरेस्क्यू टीम

    दुकान में वेंटीलेशन और शटर से बाहर निकलने का कोई दूसरा रास्ता न होने की वजह से परिवार खुद का बचाव नहीं कर सके। दुकान में आग लगने की बात सुबह सात बजे तब पता चली, जब एक महिला दुकान पर पहुंची।

    उसने शटर से धुआं निकलता देख शोर मचाया। सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंची। शटर को तोड़कर खोला तब दुकान में धुंए के अलावा कुछ नजर नहीं आ रहा था।

    बुआ के घर होने से बच गई बेटी

    मृतकों की पहचान चुनीलाल चौधरी (35), लीलाबहन चौधरी (33), अर्जुन चौधरी (2) और मोहनराम चौधरी (30) के रूप में हुई है। बेटी पूजा बुआ के घर होने से बच गई। वहीं, चुन्नीलाल और उसका छोटा भाई मोहन के साथ किराना दुकान चलाते थे। मोहन रोज अपने घर चला जाता था। सोमवार की रात पहली बार यहां सोया था और सुबह उसकी लाश मिली।

  • किराया बचाने दुकान को ही बनाया घर, गैस से भड़की आग में जिंदा जल गया परिवार
    +7और स्लाइड देखें
    वरदान टावर की दुकान में हुआ ये भयानक हादसा।
  • किराया बचाने दुकान को ही बनाया घर, गैस से भड़की आग में जिंदा जल गया परिवार
    +7और स्लाइड देखें
    मौक पर पहुंची टीम ने पीछे की साइड से दीवार तोड़कर अाग बुझाने की कोशिश की।
  • किराया बचाने दुकान को ही बनाया घर, गैस से भड़की आग में जिंदा जल गया परिवार
    +7और स्लाइड देखें
    इसी दुकान के पीछे ही परिवार रहता था ताकि मकान का किराया बच सके।
  • किराया बचाने दुकान को ही बनाया घर, गैस से भड़की आग में जिंदा जल गया परिवार
    +7और स्लाइड देखें
    शटर को तोड़ कर खोला तब दुकान में धुंए के अलावा कुछ नजर नहीं आ रहा था।
  • किराया बचाने दुकान को ही बनाया घर, गैस से भड़की आग में जिंदा जल गया परिवार
    +7और स्लाइड देखें
    सूचना मिलने पर मौक पर पहुंच फायर ब्रिगेड ने बुझाई आग।
  • किराया बचाने दुकान को ही बनाया घर, गैस से भड़की आग में जिंदा जल गया परिवार
    +7और स्लाइड देखें
    आग लगने की वजह गैस लीकेज मानी जा रही है।
  • किराया बचाने दुकान को ही बनाया घर, गैस से भड़की आग में जिंदा जल गया परिवार
    +7और स्लाइड देखें
    मरने वालों में दुकान चलाने वाला दंपती, उसका भाई और दो साल का बच्चा शामिल है।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Surat News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Whole Family Died Apart Off Girl In Fire Accident In Grocery Shop
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×