Hindi News »Gujarat »Surat» Family Suicide In Surat, Brother Told Whole Story

12वीं मंजिल से कूदा ये बिजनेसमैन, 1 माह पहले खरीदा था डेढ़ करोड़ का फ्लैट

विजय ने एक महीने पहले ही नया फ्लैट 1.20 करोड़ रुपए में खरीदा था।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 01, 2018, 01:39 PM IST

  • 12वीं मंजिल से कूदा ये बिजनेसमैन, 1 माह पहले खरीदा था डेढ़ करोड़ का फ्लैट
    +4और स्लाइड देखें
    गुजरात के बिजनेसमैन विजय चतुरभाई बघासिया ने 12वीं मंजिल से कूदकर अपनी पत्नी और चार साल के बच्चे के साथ सुसाइड कर लिया।

    सूरत. बुधवार को 12वीं मंजिल से कूदकर बिजनेसमैन विजय चतुरभाई बघासिया ने अपनी पत्नी और चार साल के बच्चे के साथ सुसाइड कर लिया। बता दें विजय ने एक महीने पहले ही नया फ्लैट 1.20 करोड़ रुपए में खरीदा था। 28 जनवरी को ही इसमें गृहप्रवेश किया था। तब करीब एक हजार लोगों को खुशी के साथ खाना भी खिलाया था। विजय के साथ उसके माता-पिता और भाई का परिवार भी इसी फ्लैट में रहता है। बताया जा रहा है कि 1.20 करोड़ में से विजय ने 70 लाख रुपए बैंक से लोन कराया था।बहाने से पानी लेने भेजा था ऊपर...

    - विजय के चचेरे भाई गौरव वघासिया ने बताया, सुबह करीब 6 बजे विजय भाई रेखा भाभी के साथ मॉर्निंग वॉक के लिए निकले थे। मैं भी साथ था। नीचे उतरने के बाद भाई ने मुझसे कहा कि पानी की बोतल भूल गया हूं, लेकर आओ।

    - मैं जब बोतल लेकर वापस लौटा तो विजय भाई और भाभी गायब थे। मैं उन्हें खोजने लगा तभी कुछ गिरने की आवाज आई। देखा तो जमीन पर विजयभाई, रेखा भाभी और वीर खून से लथपथ पड़े थे। विजयभाई की जेब से सुसाइड नोट मिली है।

    सुसाइड नोट: पिता जी परेशान मत होना, आप घर संभालना

    - विजय भाई के पैंट की जेब से 6 पेज का सुसाइड नोट मिला है। विजयभाई ने उसमें लिखा है, ‘मैं आैर मेरा परिवार कर्ज आैर ब्याज के बोझ से अब तंग आकर आत्महत्या कर रहा है। इसके लिए कोई जिम्मेदार नहीं है।

    - मेरी अपील है कि मेरे परिजनों को परेशान न किया जाए। मैं अपने परिवार को कुछ न दे सका, इसलिए मुझे खेद है। संभव हो तो मुझे माफ कर देना। पिता जी संभालना, आप चिंता मत करना।

    - मुझसे बर्दाश्त न होने की वजह से अब मैं किसी को कुछ नहीं कह पा रहा हूं। इसी वजह से मैं यह कदम उठा रहा हूं। जिस चीज के लिए मैं लगातार सात वर्षों से संघर्ष कर रहा था उसे हासिल नहीं कर सका, इसलिए यह कदम उठा रहा हूं।

    हर कोई कह रहा- खुद मर जाता पत्नी बच्चे को क्यों मारा
    - तीनों की आत्महत्या की सूचना जिसको भी मिली, उसके मुंह से यही निकला कि विजय खुद मर जाता पत्नी और बेटे के जीवन को खत्म करने की क्या जरूरत थी। सोसाइटी के ऑफिस के बाहर पुलिस तैनात: चीकूवाडी की गलानी पार्क सोसाइटी में विजय वघासिया की जायन क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड का ऑफिस है। सोसाइटी में करीब 800 सदस्य हैं। पिछले पांच साल से यह सोसाइटी चल रही है। सोसाइटी के ऑफिस पर पुलिस का पहरा बैठा दिया है।

  • 12वीं मंजिल से कूदा ये बिजनेसमैन, 1 माह पहले खरीदा था डेढ़ करोड़ का फ्लैट
    +4और स्लाइड देखें
    मासूम को साथ लेकर कूद गया था पिता।
  • 12वीं मंजिल से कूदा ये बिजनेसमैन, 1 माह पहले खरीदा था डेढ़ करोड़ का फ्लैट
    +4और स्लाइड देखें
    शवयात्रा में हजारों लोग शामिल हुए।
  • 12वीं मंजिल से कूदा ये बिजनेसमैन, 1 माह पहले खरीदा था डेढ़ करोड़ का फ्लैट
    +4और स्लाइड देखें
    विजय के चचेरे भाई गौरव वघासिया।
  • 12वीं मंजिल से कूदा ये बिजनेसमैन, 1 माह पहले खरीदा था डेढ़ करोड़ का फ्लैट
    +4और स्लाइड देखें
    12वीं मंजिल से कूदकर लगाई थी छलांग।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Surat News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Family Suicide In Surat, Brother Told Whole Story
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×