--Advertisement--

पत्नी के साथ 12वीं मंजिल से कूदा बिजनेसमैन, बेटे को भी साथ में मार दिया

योगी चौक के पास मेजिस्टिका हाइट्स की घटना, एक महीने पहले ही नए फ्लैट में आए थे रहने।

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 01:24 AM IST
इस बिल्डिंग की 12वीं मंजिल से कूदकर सूरत के कारोबारी ने पत्नी, बच्चे समेत सुसाइड कर लिया। इस बिल्डिंग की 12वीं मंजिल से कूदकर सूरत के कारोबारी ने पत्नी, बच्चे समेत सुसाइड कर लिया।

सूरत. शहर के 35 साल के गारमेंट मार्चेंट और जायन क्रेडिट सोसाइटी के फाउंडर चेयरमैन विजय चतुरभाई वघासिया ने बुधवार को वाइफ और चार साल के बच्चे के साथ 12वीं मंजिल से सुसाइड कर लिया। विजय ने अपनी पत्नी रेखा बेन और बच्चे वीर के साथ योगी चौक इलाके में मेजिस्टिका हाइट्स अपार्टमेंट की 12वीं मंजिल से छलांग लगा ली। तीनों की मौके पर ही मौत हो गई। सुसाइड की वजह कर्ज और ब्याज के बोझ को बताया है। मॉर्निंग वॉक का कहकर निकले थे...

- विजय मूल रूप से अमरेली जिले की बगसरा तालुका के के रहने वाले थे। तीनों मॉर्निंग वॉक का कहकर घर से बाहर निकले थे।

- उनकी पैंट की जेब से मिले सुसाइड नोट में लिखा है कि सुसाइड के लिए कोई व्यक्ति दोषी नहीं है। हालांकि पुलिस ने अभी तक सुसाइड नोट जारी नहीं किया है और न ही ज्यादा जानकारी दी है।

- आशंका व्यक्त की जा रही है कि इस सुसाइड नोट में कई फाइनेंसरों के नाम हैं। सरथाणा पुलिस मामले की जांच शुरू कर दी है।

- तीनों के साथ पिता चतुरभाई, मां हंसाबेन और छोटा भाई धर्मेश भी साथ रहते थे। विजय इतना बड़ा कदम उठा लेगा इसका किसी भी सदस्य को अंदाजा नहीं था।

एक महीने पहले ही सवा करोड़ के फ्लैट में शिफ्ट हुए थे

- विजय चतुरभाई वघासिया (35) योगी चौक में तुलसी दर्शन सोसाइटी विभाग-2 में रहते थे।

- 6 महीने पहले उन्होंने मेजिस्टिका हाइट्स में सवा करोड़ रुपए का फ्लैट खरीदा था।

- एक महीने पहले ही वे नए फ्लैट 201 में रहने आए थे।

- वर्तमान में इस फ्लैट में विजय के पिता चतुरभाई, माता हंसाबेन और छोटा भाई धर्मेश रह रहे हैं।

4 फीट ऊंची दीवार से कूदने के लिए कुर्सी साथ लेकर गए थे

- बुधवार की सुबह विजय अपनी पत्नी रेखा बेन और चार साल के बेटे वीर के साथ अपार्टमेंट की 12वीं मंजिल पर गए। वहां करीब 4 फीट की दीवार थी। उसे फांदने के लिए विजय नीचे से ही कुर्सी लेकर गए थे।

- 12वीं मंजिल पर जाने के बाद उन्होंने पहले बेटे को अपनी टांगों के बीच फंसाया और फिर पत्नी रेखा बेन के साथ नीचे कूद गए। तीनों की मौके पर ही मौत हो गई।

भाई-भाभी को खोजने लगा तभी कुछ गिरने की आवाज आई

- सुबह करीब 6 बजे विजय भाई रेखा भाभी के साथ मॉर्निंग वॉक के लिए निकले थे। मैं भी साथ था। नीचे उतरने के बाद भाई ने मुझसे कहा कि पानी की बोतल भूल गया हूं, लेकर आओ।

- मैं जब बोतल लेकर वापस लौटा तो विजय भाई और भाभी गायब थे। मैं उन्हें खोजने लगा तभी कुछ गिरने की आवाज आई।

- देखा तो जमीन पर विजयभाई, रेखा भाभी और वीर खून से लथपथ पड़े थे। विजयभाई की जेब से सुसाइड नोट मिली है।

विजय ने एक महीने पहले ही नया फ्लैट 1.20 करोड़ रुपए में खरीदा था। विजय ने एक महीने पहले ही नया फ्लैट 1.20 करोड़ रुपए में खरीदा था।
पिता मासूम को पैरों में दबाकर कूद गया था। पिता मासूम को पैरों में दबाकर कूद गया था।
6 फीट ऊंची मंजील पर कुर्सी लगाकर चढ़े थे मृतक पति पत्नी। 6 फीट ऊंची मंजील पर कुर्सी लगाकर चढ़े थे मृतक पति पत्नी।
कूदने के बाद बुरी तरह बिखर गईं थी लाशें। कूदने के बाद बुरी तरह बिखर गईं थी लाशें।
X
इस बिल्डिंग की 12वीं मंजिल से कूदकर सूरत के कारोबारी ने पत्नी, बच्चे समेत सुसाइड कर लिया।इस बिल्डिंग की 12वीं मंजिल से कूदकर सूरत के कारोबारी ने पत्नी, बच्चे समेत सुसाइड कर लिया।
विजय ने एक महीने पहले ही नया फ्लैट 1.20 करोड़ रुपए में खरीदा था।विजय ने एक महीने पहले ही नया फ्लैट 1.20 करोड़ रुपए में खरीदा था।
पिता मासूम को पैरों में दबाकर कूद गया था।पिता मासूम को पैरों में दबाकर कूद गया था।
6 फीट ऊंची मंजील पर कुर्सी लगाकर चढ़े थे मृतक पति पत्नी।6 फीट ऊंची मंजील पर कुर्सी लगाकर चढ़े थे मृतक पति पत्नी।
कूदने के बाद बुरी तरह बिखर गईं थी लाशें।कूदने के बाद बुरी तरह बिखर गईं थी लाशें।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..