--Advertisement--

नीरव मोदी ने औने-पौने दाम पर ली थी जमीन, किसानों ने किया कब्जा

किसानों ने कहा कि जल्द ही पूरी 125 एकड़ जमीन पर कब्जा कर लेंगे।

Danik Bhaskar | Mar 18, 2018, 04:43 AM IST
किसानों का दावा है कि यह जमीन उन्हीं की थी, जिसे नीरव की कंपनी के लिए औने-पौने दामों पर अधिग्रहीत किया गया था। - फाइल किसानों का दावा है कि यह जमीन उन्हीं की थी, जिसे नीरव की कंपनी के लिए औने-पौने दामों पर अधिग्रहीत किया गया था। - फाइल

मुंबई. महाराष्ट्र के अहमदनगर में शनिवार को किसानों ने पीएनबी घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी की जमीन पर कब्जा कर खेती शुरू कर दी। किसानों का दावा है कि यह जमीन उन्हीं की थी, जिसे नीरव की कंपनी के लिए औने-पौने दामों पर अधिग्रहीत किया गया था। बैलगाड़ियों में पहुंचे करीब 200 किसानों ने कर्जत तहसील के खंडाला स्थित इस जमीन के एक हिस्से पर सांकेतिक तौर पर ट्रैक्टर से जुताई भी की। किसानों ने कहा कि जल्द ही पूरी 125 एकड़ जमीन पर कब्जा कर लेंगे।

- वकील और सामाजिक कार्यकर्ता कारभारी गवली ने कहा, “किसानों से 15 हजार रु. एकड़ की दर से जमीन ली गई, जबकि इस इलाके में मुआवजे का सरकारी रेट 20 लाख रु. एकड़ है।

नीरव माेदी और मेहुल चौकसी से जुड़ा मामला क्या है?

- पंजाब नेशनल बैंक ने पिछले दिनों सेबी और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को 11,356 करोड़ रुपए के घोटाले के जानकारी दी थी। घोटाला पीएनबी की मुंबई की ब्रेडी हाउस ब्रांच में हु। शुरुआत 2011 से हुई। 8 साल में हजारों करोड़ की रकम फर्जी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग्स (एलओयू) के जरिए विदेशी अकाउंट्स में ट्रांसफर की गई।

- धोखाधड़ी की रकम 2016-17 में पंजाब नेशनल बैंक के 1,325 करोड़ के मुनाफे का 8 गुना, बैंक के 35,365 करोड़ के मार्केट कैप का एक तिहाई और 4.5 लाख करोड़ के कुल कर्ज का 2.5% है।
- 2017 में फोर्ब्स की अमीर भारतीयों की लिस्ट में शामिल नीरव मोदी इस फ्रॉड के केंद्र में हैं। मोदी का मामा मेहुल चौकसी भी आरोपी है। चौकसी गीतांजलि ग्रुप चलाता है। ग्रुप की तीन कंपनियों गीतांजलि जेम्स, गिली इंडिया और नक्षत्र के खिलाफ फ्रॉड केस दर्ज हुए हैं।

किसानों ने कहा कि जल्द ही पूरी 125 एकड़ जमीन पर कब्जा कर लेंगे। - फाइल किसानों ने कहा कि जल्द ही पूरी 125 एकड़ जमीन पर कब्जा कर लेंगे। - फाइल