--Advertisement--

पहली बार नेचुरल फाइबर कॉर्न-कॉटन मिक्स कर कपड़ा बनाया, सोलर चरखे में होगा इस्तेमाल

उपलब्धि | डिमांड पर लक्ष्मीपति ग्रुप ने बनाए पांच सैंपल, चार को विशेषज्ञों ने पास किया

Danik Bhaskar | Mar 17, 2018, 07:11 AM IST

सूरत. सोलर चरखे पर बने कॉटन यार्न और नेचुरल फाइबर कॉर्न को मिक्स कर शहर के लक्ष्मीपति ग्रुप ने एमएसएमई मंत्री गिरिराज सिंह को भी चौंका दिया। इससे पहले दिल्ली में लक्ष्मीपति ग्रुप के संजय सरावगी से मिलकर गिरिराज सिंह ने कॉटन यार्न देकर आकर्षक और नया सैंपल बनाने को कहा था, ताकि कुटीर उद्योग से जुड़े लोगों को इसका लाभ मिल सके। इसी के चलते उन्होंने पांच सैंपल बनाए हैं जो कॉटन यार्न और अन्य पॉलिस्टर, जरी को मिक्स कर बनाया। पांच में से चार सैंपल मंत्री के एक्सपर्ट को काफी अच्छे लगे। लक्ष्मीपति ग्रुप ने पहली बार इस प्रकार का कपड़ा बनाया है, जिसका कॉमर्शियल उत्पादन जल्द शुरू किया जाएगा। इसके अलावा सरकार से कुछ और भी बड़ी कंपनियां जुड़ी हैं जो कपड़ा बनने के बाद मार्केटिंग करने का काम करेंगी। इस तरह सरकार कुटीर उद्योग को बढ़ाने की दिशा में आगे बढ़ रही है।


स्पीड कम करके बनाए सैंपल
गिरिराज सिंह ने सोलर चरखे पर बने कॉटन यार्न के सैंपल बनाने को दिए थे उससे हाई स्पीड और आधुनिक मशीन पर कपड़ा बनाना मुश्किल है। लक्ष्मीपति की टीम ने हाई स्पीड मशीन पर स्पीड स्लो कर इसको मेंटेन किया। तब जाकर सैंपल बन पाया। यार्न विशेषज्ञ गौरीशंकर नागराजन और नीलमणि कांत ने यार्न के धागे को मजबूत बनाने के लिए ट्विस्ट करने सहित तकनीकी बाते बताईं, जिससे सोलर चरखे को डेवलप किया जा सकता है।

वितरण: सांसद पाटिल ने महिलाओं को बांटे 251 सोलर चरखे, मंत्री भी रहे मौजूद
नवसारी सांसद सीआर पाटिल के जन्मदिन पर एक कार्यक्रम लिंबायत में आयोजित किया गया, जिसमें केन्द्रीय लघु, सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योग राज्यमंत्री गिरिराज सिंह भी मौजूद रहे। इस दौरान सीआर पाटिल ने महिलाओं को स्वावलंबी बनाने के लिए खादी ग्रामोद्योग की मदद से 251 महिलाओं को सोलर चरखे का किट वितरित किया। महिलाओं को किट देने के बाद पाटिल ने कहा, वह चाहते हैं कि सूरत की महिलाएं आत्मनिर्भर बनें और केन्द्र सरकार की इस मुहिम में बराबर की भागीदार बनें, ताकि महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा दिया जा सके।

वादा: चैंबर ऑफ कॉमर्स के प्रतिनिधियों की समस्या सुनने के लिए दिल्ली बुलाया
एमएसएमई मंत्री चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष पीएम शाह और उप प्रमुख हेतल शाह से मिले। उधना स्थित हेतल शाह की ऑफिस पर मंत्री से इलेक्ट्रॉनिक मोटर, फाउंड्री, सिफॅमिक इंडस्ट्री से जुड़ी समस्या बताई। जिसे सुनकर गिरिराज सिंह ने चैंबर ऑफ कॉमर्स को लिखित में समस्याएं लेकर दिल्ली आने को कहा।

सोलर चरखे से बढ़ेगा रोजगार
गिरिराज सिंह ने कहा कि सूरत आने का उनका एक ही मकसद है कि कुटीर उद्योग को बढ़ावा देने में सूरत की मदद ली जाए। इससे यहां रोजगार के नए अवसर बढ़ेंगे। सोलर चरखे से बनने वाले धागे का उपयोग करें, यहां के व्यापारी के अनुभव का लाभ उन्हें मिले, कॉटन धागे की बिक्री के लिए बाजार मेंटेन करके दंे, संजय सरावगी ने उन्हें भरोसा दिलाया कि हम अपना पूरा सहयोग देंगे। यहां तक कि सोलर चरखे से बने कॉटन यार्न का कपड़ा भी बनाएंगे। जिससे कुटीर उद्योग तेजी से आगे बढ़े। मंत्री ने एक और सेम्पल बनाने को कहा है जो सब से अलग और आकर्षित हो। गिरिराज सिंह ने सहयोग के लिए लक्ष्मीपति ग्रुप के मालिक संजय सरावगी की प्रशंसा की।


सरकार कॉटन को दे रही है बढ़ावा: गिरिराज सिंह
लक्ष्मीपति ग्रुप की फैक्ट्री में विजिट के दौरान केन्द्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग राज्य मंत्री गिरिराज सिंह ने बताया कि सरकार मेक इन इंडिया प्रोग्राम के तहत कॉटन को बढ़ावा दे रही है। यही वजह है कि देश में सोलर चरखे से कुटीर उद्योग यानी महिलाओं की सहभागिता से कॉटन से कॉटन धागा बनाने पर जोर दिया जा रहा है। इस कॉटन को नायलॉन और कॉर्न से मिक्स कर फेब्रिक बनाने की दिशा में काम किया जा रहा है। आने वाले दिनों में कॉटन की डिमांड बढ़ेगी। इसी को देखते हुए हमारी सरकार सोलर चरखे को बढ़ावा दे रही है।