--Advertisement--

जीएसटी: जिन कंपनियों पर लगातार 6 महीने तक देनदारी नहीं बनती, उन्हें छमाही रिटर्न की सुविधा संभव

अभी रिटर्न फाइल करने वाली 40% कंपनियों पर टैक्स की कोई देनदारी नहीं

Dainik Bhaskar

Mar 26, 2018, 04:08 AM IST
अभी रिटर्न फाइल करने वाली 40% कंपनियों पर टैक्स की कोई देनदारी नहीं। - सिॅम्बॉलिक अभी रिटर्न फाइल करने वाली 40% कंपनियों पर टैक्स की कोई देनदारी नहीं। - सिॅम्बॉलिक

नई दिल्ली. जिन कंपनियों पर लगातार 6 महीने तक जीएसटी की कोई देनदारी नहीं बनती है, उनके लिए रिटर्न फाइलिंग आसान हो सकती है। जीएसटी काउंसिल उन्हें 6 महीने में एक बार यानी साल में सिर्फ 2 रिटर्न फाइलिंग की सुविधा देने पर विचार कर रही है। 40% कंपनियों पर टैक्स की कोई देनदारी नहीं है। सूत्रों के अनुसार काउंसिल की अगली बैठक में इस प्रस्ताव पर विचार हो सकता है।

- सूत्र ने बताया कि काउंसिल की इस बैठक में रिटर्न से जुड़े कई फैसले संभव हैं। टर्नओवर के हिसाब से रिटर्न की तारीख तय की जा सकती है। सालाना 1.5 करोड़ रुपए तक टर्नओवर वाले अगले महीने की 10 तारीख तक और इससे ज्यादा टर्नओवर वाले 20 तारीख तक रिटर्न फाइल कर सकेंगे।

- रिटर्न फाइलिंग की आखिरी तारीख के बाद तीन महीने के भीतर उसमें संशोधन किया जा सकेगा। इसके बाद इनपुट टैक्स क्रेडिट के लिए सप्लायर के इनवॉयस से मिलान किया जाएगा। सालाना 1.5 करोड़ तक टर्नओवर वाली कंपनियों के लिए रिटर्न फॉर्म में एचएसएन कोड लिखने की जरूरत नहीं होगी।

वाहन स्क्रैप नीति से वाहन बनाने का खर्च 30-40% कम होगा, नया वाहन खरीदने पर 15-20% टैक्स में छूट संभव। - सिम्बॉलिक वाहन स्क्रैप नीति से वाहन बनाने का खर्च 30-40% कम होगा, नया वाहन खरीदने पर 15-20% टैक्स में छूट संभव। - सिम्बॉलिक
X
अभी रिटर्न फाइल करने वाली 40% कंपनियों पर टैक्स की कोई देनदारी नहीं। - सिॅम्बॉलिकअभी रिटर्न फाइल करने वाली 40% कंपनियों पर टैक्स की कोई देनदारी नहीं। - सिॅम्बॉलिक
वाहन स्क्रैप नीति से वाहन बनाने का खर्च 30-40% कम होगा, नया वाहन खरीदने पर 15-20% टैक्स में छूट संभव। - सिम्बॉलिकवाहन स्क्रैप नीति से वाहन बनाने का खर्च 30-40% कम होगा, नया वाहन खरीदने पर 15-20% टैक्स में छूट संभव। - सिम्बॉलिक
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..