--Advertisement--

तापी शुद्धिकरण समिति ने दी चेतावनी- 15 दिन में तापी शुद्ध नहीं की तो जीपीसीबी आॅफिस में डालेंगे गंदगी

जीपीसीबी ने नोटिस जारी करने के अलावा कोई ठोस कार्रवाई नहीं की।

Danik Bhaskar | Mar 22, 2018, 05:24 AM IST

सूरत. तापी शुद्धिकरण समिति के अनिल चौहान ने चेतावनी दी है कि 15 दिन में नदी में गंदगी डालने वालों के खिलाफ ठोस कार्रवाई नहीं की गई और नदी में गंदगी डालना बंद नहीं करवाया गया तो समिति के सदस्य जीपीसीबी के ऑफिस में गंदगी का ढेर लगा देंगे।

चौहान ने बताया कि बताया की 2013 में गुजरात पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड ने पालिका एवं गंदगी डालने वालों को नोटिस दिया था। आज तक वह कार्रवाई सिर्फ कागज पर ही है। जीपीसीबी ने नोटिस जारी करने के अलावा कोई ठोस कार्रवाई नहीं की।


भाजपा के बाद कांग्रेस भी करेगी सफाई

भाजपा द्वारा रामनवमी के दिन तापी से जलकुंभी निकालने का कार्यक्रम रखा है। जिसके लिए मनपा द्वारा तकनीकी सहायता की जा रही है। इस सहायता को निशुल्क किया जा रहा है, जिसका विरोध कांग्रेस पार्षदों द्वारा मंगलवार को महापौर को आवेदन लिखकर किया गया।

फोस्टा की भी अपील

इधर, गुजरात स्थापना दिवस से तापी शुद्धिकरण अभियान में कपड़ा व्यापारी भी सहभागी बनें, इसके लिए फोस्टा ने सभी मार्केट को पत्र जारी किया है। वहीं बुधवार को यूथ कांग्रेस ने एक मई यानी गुजरात स्थापना दिवस के दिन तापी की सफाई के लिए मनपा से तकनीकी सहायता मांगी है।