--Advertisement--

15 लाख वाहनों पर नहीं है हाई सिक्युरिटी नंबर प्लेट, दिन बचे हैं 20

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के पांच साल बाद भी नहीं लग पाई सभी वाहनों में हाई सिक्यूरिटी नंबर प्लेट

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 05:51 AM IST

सूरत. सूरत जिले में अभी 15 लाख वाहनों में हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट लगानी बाकी है। हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट लगवाने की आखिरी तारीख 15 जनवरी 2018 है। इसके बाद जिन दोपहिया और चार पहिया गाड़ियों पर हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट नहीं लगी होगी उनका चालान काटकर 500 रुपए जुर्माना लगाया जाएगा। आरटीओ में हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगाने का काम निजी एजेंसी द्वारा किया जा रहा है।

- इस एजेंसी के 20 कर्मचारी नंबर प्लेट लगाने सहित अन्य काम करते हैं। अभी ये कर्मचारी हर रोज 700 गाड़ियों पर हाई सिक्यूरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगा रहे हैं। अगर कर्मचारी अपनी पूरी क्षमता से नंबर प्लेट लगाएं तो भी 15 जनवरी तक ज्यादा से ज्यादा 7,700 गाड़ियों में ही नंबर प्लेट लगा पाएंगे। उसके बाद में बची 14 लाख 92 हजार 300 गाड़ियों का चालान कटना तय है।

आरटीओ ने एक आदेश जारी कर सूरत में 2012 सेे पहले खरीदे गए सभी वाहनों पर हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगवाने को कहा था, लेकिन पांच साल बीत जाने के बाद भी अभी तक यह काम पूरा नहीं किया जा सका है। अभी तक यह काम पूरा नहीं होने का आरोप आरटीओ ने वाहन मालिकों पर ही लगा दिया। आरटीओ का कहना है कि लोग जुर्माना भर रहे हैं, पर हाई सिक्युरिटी नंबर प्लेट लगवाने में दिलचस्पी नहीं ले रहे। उनकी उदासीनता से काम लटका है।

आदेश : सुप्रीम कोर्ट ने ब्यौरा मांगा तो हरकत में आया आरटीओ

सुप्रीम कोर्ट ने 2012 में राज्य के सभी दो पहिया और चार पहिया वाहनों पर हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगाने का आदेश दिया था। उसके बाद भी सूरत आरटीओ ने आदेश के पालन में कोताही बरती। अब सुप्रीम कोर्ट ने आरटीओ और पुलिस द्वारा 5 साल में लगाए गए हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट का ब्यौरा मांगा है। 22 जनवरी तक आरटीओ और पुलिस दोनों ही विभागों को अपने काम का ब्यौरा सुप्रीम कोर्ट को देना है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद हरकत में आए सूरत आरटीओ ने जिले के सभी वाहनों को 15 जनवरी तक हाय सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगवाने का आदेश दिया है। जिले में अंदाजन 15 लाख वाहन ऐसे हैं, जिन पर अभी भी हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट नहीं लगी है। महज 15 दिन में इन सभी वाहनों पर हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगाना मुमकिन नहीं है।

कार्रवाई : पुलिस ने कहा-हम कर रहे है आदेश का पालन

हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगवाने के लिए सूरत आरटीओ ने 15 जनवरी तक का समय वाहन मालिकों को दिया है, लेकिन सूरत पुलिस ने 21 दिसंबर से ही चालान काटना शुरू कर दिया है। आरटीओ के आदेश के बाद भी पुलिस ने वाहन मालिकों को 21 दिसंबर तक हाई सिक्यूरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगाने का फरमान दे दिया। अब जुर्माना लगाना शुरू कर दिया है। आरटीओ और पुलिस में तालमेल की कमी से वाहन चालाक अभी से जुर्माना भरने को मजबूर हैं। पुलिस रोज लगभग 600 गाड़ियों पर 100 रुपए जुर्माना लगा रही है।

आरोप : वाहन मालिक नहीं ले रहे दिलचस्पी, लटका काम

आरटीओ के अधिकारियों की मानें तो 2012 में हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगवाने के आदेश के बाद भी वाहन चालकों ने कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई। आरटीओ का कहना है कि ऑनलाइन अपॉइंटमेंट लेने के बाद भी बहुत सारे वाहन मालिक हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगवाने नहीं आए। आरटीओ में सैकड़ों हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट पड़ी हुई हैं। वाहन मालिक जुर्माना भर देते हैं, लेकिन नंबर प्लेट नहीं बदलवाते। आखिरी तारीख के बाद चालान काटा जाएगा।

हमने 20 दिसंबर को सूचना जारी कर लोगों को सूचित किया था कि एचएसआरपी बगैर घूम रही गाड़ियों के खिलाफ 21 दिसंबर से कार्रवाई की जाएगी। हम सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन कर रहे हैं। रोज 500 से 600 गाड़ियों के चालान काटे जा रहे हैं।

-जेडए शेख, एसीपी , ट्रैफिक विभाग, सूरत