Home | Gujarat | Surat | In the village of Gujarat, the Om shaped gorgeous Shiv Temple

यहां बन रहा है ‘ऊँ’ आकार का भव्य मंदिर, देखें ड्रोन तस्वीर

शिवलिंग के साथ 131 देवी-देवताओं की मूर्ति, 51 शक्तिपीठ की देवियां भी होंगी।

Dainikbhaskar.com| Last Modified - Jan 29, 2018, 12:06 PM IST

1 of
In the village of Gujarat, the Om shaped gorgeous Shiv Temple
निखिलेश्वर महादेव मंदिर पहली बार ड्रोन की नजर से।

वापी। सेलवास के पास कुडाया गावं के निखिलनगर में ‘ओम’ आकार का ऊँ आकार के भव्य मंदिर  का निर्माण कार्य जारी है। श्री निखिल त्रिमूूर्ति प्रणव चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा 36 हजार स्क्वेयर फीट स्थान पर 3.6 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले इस मंदिर के बनने की शुरुआत 21 अप्रैल 2004 में हुई थी। इसके निर्माण में लोहे का बिलकुल भी इस्तेमाल नहीं किया गया है। पहली बार ड्रोन की नजर से तस्वीरें…

 

महादेवजी मंदिर तालाब, नदी या समुद्र किनारे हो, तो इसे श्रेष्ठ माना जाता है। इसलिए इस मंदिर का निर्माण दमणगंगा नदी के किनारे किया जा रहा है। 400 स्तंभों पर बनाए जाने वाला यह मंदिर 21 एकड़ जमीन पर फैला हुआ है। इस समय मंदिर में कुल 131 देवी-देवताओं की मूर्ति बनाई गई है। इसमें 51 शक्तिपीठ की देवियों को भी शामिल किया गया है। पूरा मंदिर वास्तुशास्त्र के सम्मत बनाया जा रहा है।

कुछ और  जानकारियां

-3.6 करोड़ की लागत से इस मंदिर का निर्माण किया जा रहा है।

.35 हजार स्क्वेयर फीट पर निर्माण कराया जा रहा है।

-400 स्तंभ होंगे, इस मंदिर में।

-18 बाय25 फीट की ऊंचाई और चौड़ाई है।

- 11 दरवाजे और 100 खिड़कियां होंगी।

 

प्रमुख शहरों से दूरी

वापी से         28 कि.मी.

सूरत से         134 कि.मी.

मुम्बई से        178  कि.मी.

बेंगलुरु से     1140  कि.मी.

पुणे से         309  कि.मी.

जयपुर से        1009  कि.मी.

भोपाल से     395  कि.मी.

 
In the village of Gujarat, the Om shaped gorgeous Shiv Temple
शिवलिंग के साथ 131 देवी-देवताओं की मूर्तियां, 51 शक्तिपीठ की देवियों की मूर्तियां भी होंगी।
In the village of Gujarat, the Om shaped gorgeous Shiv Temple
35 हजार स्क्वेयर फीट में हो रहा है निर्माण।
In the village of Gujarat, the Om shaped gorgeous Shiv Temple
400 स्तंभ पर होगा मंदिर।
In the village of Gujarat, the Om shaped gorgeous Shiv Temple
3.6 करोड़ की लागत से इस मंदिर का निर्माण किया जा रहा है।
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now