Hindi News »Gujarat »Surat» Jal Shri Krishna Campaign For Saving Water In Gujarat

जल श्री कृष्ण: नदी पानी से लबालब, फिर भी किनारे बसा गांव है प्यासा

गांव की महिलाएं नदी के किनारे रेती खोदकर रोज पानी भरती हैं।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 17, 2018, 07:07 AM IST

  • जल श्री कृष्ण: नदी पानी से लबालब, फिर भी किनारे बसा गांव है प्यासा
    +1और स्लाइड देखें

    बहुचराजी(गुजरात).महेसाणा के बहुचराजी से आठ किमी दूर कोठारपुरा गांव रूपेण नदी के किनारे बसा होने के बावजूद पानी के लिए तड़प रहा है। गांव की आबादी 500 है। गांव की महिलाओं को सुबह सोकर उठते ही पानी की चिंता सताने लगती है। रूपेण नदी पानी से लबालब होने के बावजूद उसके किनारे बसे कोठारपुरा गांव को पीने का पानी नहीं मिल रहा है। गांव की महिलाएं नदी के किनारे रेती खोदकर रोज पानी भरती हैं।

  • जल श्री कृष्ण: नदी पानी से लबालब, फिर भी किनारे बसा गांव है प्यासा
    +1और स्लाइड देखें
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×