Hindi News »Gujarat »Surat» Killing In Gangwar Wine Smuggling

मुंबई की ओर से आने वाली ट्रेनों से शराब तस्करी, गैंगवार में युवक की मौत

वारदात के बाद बुटलेगर वलीउल्ला ने शराब की 41 पेटी मौके से हटा ली। पुलिस भी वारदात के 45 मिनट बाद मौके पर पहुंची।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 05, 2018, 05:18 AM IST

मुंबई की ओर से आने वाली ट्रेनों से शराब तस्करी, गैंगवार में युवक की मौत

सूरत.सूरत रेलवे स्टेशन पर पार्सल ऑफिस के पास चल रहे शराब के अड्डे पर शनिवार की रात को दो गुटों के बीच मारपीट हुई थी। इसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि चार घायल हैं। पार्सल ऑफिस के पास कुख्यात बुटलेगर वलीउल्ला शराब का अवैध अड्डा चलाता है। इसी को लेकर शनिवार की देररात हुए हमले में शराब बेच रहे सलीम नामक युवक की मौत हो गई जबकि, बुटलेगर का भाई बरकत अली, नरेश और सुंदर नामक व्यक्ति का इलाज चल रहा है।

वारदात के बाद शराब की 41 पेटी मौके से हटा ली

पुलिस के अनुसार पांच से छह लोगों ने हथियारों के साथ हमला किया था। रेलवे पुलिस ने आइसी गांधी स्कूल के पास रहते सलीम और उसके चार साथियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू की है। बताया जा रहा है कि वारदात के बाद बुटलेगर वलीउल्ला ने शराब की 41 पेटी मौके से हटा ली। पुलिस भी वारदात के 45 मिनट बाद मौके पर पहुंची।

मुंबई की ओर से आने वाली ट्रेनों से शराब तस्करी

मुंबई की ओर से आने वाली 6 ट्रेन में वलीउल्ला के तस्कर शराब की हेराफेरी करते हैं। रेलवे में पार्सल बनाकर शराब दमण से सूरत लाई जाती है। किसी प्रकार की चेकिंग होने की संभावना पर पुलिस ही वलीउल्ला को जानकारी दे देती है। मुंबई की ओर से आती सयाजी नगरी एक्सप्रेस, कच्छ एक्सप्रेस, रणकपुर एक्सप्रेस, सौराष्ट्र जनता एक्सप्रेस, फ्लाइंग रानी और अवंतिका एक्सप्रेस में शराब दमण से लाई जाती है। सभी ट्रेन के कोच एस-1 से एस-10 तक सभी टॉयलेट में शराब के पार्सल रखे जाते हैं। किसी मुसाफिर को टॉयलेट जाना हो तो वहां खड़े बुटलेगर के लोग उन्हें अंदर जाने नहीं देते।

वलीउल्ला वांटेड, गिरफ्तारी नहीं, 5 जनवरी को हुई थी रेड

वलीउल्ला वांछित बुटलेगर है। 5 जनवरी के दिन हुई रेड में वलीउल्ला को फरार करार दिया गया था। वलीउल्ला शहर में उधना दरवाजा के पास निर्मल अस्पताल में आया था और रेलवे के दो पुलिस कर्मियों से मुलाकात भी की थी। फिर भी उसकी गिरफ्तारी नहीं की गई थी। अस्पताल और बाहर के सीसीटीवी के फुटेज चेक करने से इसकी पुष्टि भी की जा सकती है। वलीउल्ला को गिरफ्तार करने से पुलिस भी कतरा रही है।

तस्कर के घर दावत में पहुंचे थे चार पुलिस कर्मी

6 जनवरी के दिन वलीउल्ला के घर पर दावत रखी गई थी, जिसमें सूरत क्राइम ब्रांच, सूरत हेड क्वाटर के पुलिसकर्मी, रेलवे आरआर सेल और रेलवे एलसीबी के पुलिस कर्मी पहुंचे थे। रेलवे के दो पुलिस कर्मी बूटलेगर के घर दावत पर जाने के बारे में रेलवे पुलिस के उच्च अधिकारी आशीष भाटिया को शिकायत की गई है। बताया जा रहा है कि आने वाले दिनों में उन पर कार्रवाई हो सकती है।

वलीउल्ला पर आरोप, पुलिस को हफ्ता देकर चलाता था शराब का अड्डा

सूत्रों की माने तो बुटलेगर वलीउल्ला कई सालों से पार्सल ऑफिस के पास शराब का अवैध धंधा कर रहा है। इसके लिए वलीउल्ला सूरत रेलवे पुलिस से लेकर रेलवे एलसीबी, आरआर सेल और सूरत आरपीएफ सहित मुंबई के अफसरों तक पैसे पहुंचाता है। सूत्र बता रहे हैं कि वलीउल्ला प्रतिमाह 6 लाख रुपए से भी अधिक पैसे पुलिस को देता है। बताया जा रहा है कि आरपीएफ का एक कांस्टेबल, रेलवे एलसीबी, आरआर सेल और एक पुलिस अधिकारी के लिए एक दूसरा कांस्टेबल और अनवर नामक एक अन्य व्यक्ति पैसे की वसूली करते हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×