--Advertisement--

बाइकिंग क्वींस के नाम से फेमस हैं ये बाइकर्स, मोदी के रोड शो को कर चुकी हैं एस्कॉर्ट

सूरत की बाइक क्वीन सारिका मेहता की टीम में अब 50 लड़कियां शामिल हो चुकी हैं।

Dainik Bhaskar

Mar 08, 2018, 03:06 AM IST
बाइक क्वीन सारिका मेहता की टीम में कुल 50 लड़कियां शामिल हो चुकी हैं। बाइक क्वीन सारिका मेहता की टीम में कुल 50 लड़कियां शामिल हो चुकी हैं।

गुजरात. सूरत की बाइक क्वीन सारिका मेहता की टीम में कुल 50 लड़कियां शामिल हो चुकी हैं। सारिका मेहता ने 2014 में बाइकिंग की शुरुआत की थी। उन्होंने ने बताया कि उनका शौक है सात पहाड़ियों पर चढ़ना जिसमें से उन्होंने तीन पहाड़ियों पर चढ़ाई कर ली है। हाल में रूस के माउंट अलब्रश पर चढ़ाई की है। उनकी बाइकर्स की टीम बाइकिंग क्वींस के नाम से फेमस है। सूरत की शान बना वही तिरंगा...

- बाइकिंग क्वींस ने 15 अगस्त को लद्दाख पहुंचकर तिरंगा झंडा फहराया था। जब लौटते हुए वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलीं तो उन्होंने इसे सूरत में भी फहराने की इच्छा जताई थी। इस पर यहां हुई मैराथन में भी 75*25 फुट अाकार के इस तिरंगे को फहराया गया था।

प्रधानमंत्री के रोड शो को किया एस्कॉर्ट

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब सूरत में रोड शो किया तो इन बाइकिंग क्वींस ने पूरे शो को एस्कॉर्ट किया। जो सूरत की नारी शक्ति की पहचान है।

- यह ग्रुप हर शनिवार और रविवार को गरीब बच्चियों को पढ़ाने के लिए अलग-अलग इलाकों में कैम्प करती हैं और लोगों को समझाती हैं कि लड़कियां कितनी कीमती हैं।

साउथ अफ्रीका में किया भारत का नेतृत्व

- 2017 में साउथ अफ्रीका में सेफ बाइक राइड का आयोजन किया गया था, जो हर साल किया जाता है और हर देश से एक महिला भाग लेती है।

- इसमें उन्होंने भारत की तरफ से हिस्सा लिया था। 2016 में सूरत से सिंगापुर का सफर बाइक से किया था, जिसमें पूरे एशिया का दौरा किया था।

- इसका उद्देश्य पूरे भारत को “बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ” और सशक्त नारी की जागृति का मैसेज देना है।

इन बाइकर्स को सात पहाड़ियों पर चढ़ना जिसमें से उन्होंने तीन पहाड़ियों पर चढ़ाई कर ली है। इन बाइकर्स को सात पहाड़ियों पर चढ़ना जिसमें से उन्होंने तीन पहाड़ियों पर चढ़ाई कर ली है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब सूरत में रोड शो किया तो इन बाइकिंग क्वींस ने पूरे शो को एस्कॉर्ट किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब सूरत में रोड शो किया तो इन बाइकिंग क्वींस ने पूरे शो को एस्कॉर्ट किया।
ह ग्रुप हर शनिवार और रविवार को गरीब बच्चियों को पढ़ाने के लिए अलग-अलग इलाकों में कैम्प करती हैं और लोगों को समझाती हैं कि लड़कियां कितनी कीमती हैं। ह ग्रुप हर शनिवार और रविवार को गरीब बच्चियों को पढ़ाने के लिए अलग-अलग इलाकों में कैम्प करती हैं और लोगों को समझाती हैं कि लड़कियां कितनी कीमती हैं।
2016 में इन बाइकर्स ने सूरत से सिंगापुर का सफर बाइक से किया था 2016 में इन बाइकर्स ने सूरत से सिंगापुर का सफर बाइक से किया था
इनका मकसद पूरे भारत को “बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ” और सशक्त नारी की जागृति का मैसेज देना है। इनका मकसद पूरे भारत को “बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ” और सशक्त नारी की जागृति का मैसेज देना है।
टीम मेंबर्स। टीम मेंबर्स।
बाइकिंग ग्रुप। बाइकिंग ग्रुप।
X
बाइक क्वीन सारिका मेहता की टीम में कुल 50 लड़कियां शामिल हो चुकी हैं।बाइक क्वीन सारिका मेहता की टीम में कुल 50 लड़कियां शामिल हो चुकी हैं।
इन बाइकर्स को सात पहाड़ियों पर चढ़ना जिसमें से उन्होंने तीन पहाड़ियों पर चढ़ाई कर ली है।इन बाइकर्स को सात पहाड़ियों पर चढ़ना जिसमें से उन्होंने तीन पहाड़ियों पर चढ़ाई कर ली है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब सूरत में रोड शो किया तो इन बाइकिंग क्वींस ने पूरे शो को एस्कॉर्ट किया।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब सूरत में रोड शो किया तो इन बाइकिंग क्वींस ने पूरे शो को एस्कॉर्ट किया।
ह ग्रुप हर शनिवार और रविवार को गरीब बच्चियों को पढ़ाने के लिए अलग-अलग इलाकों में कैम्प करती हैं और लोगों को समझाती हैं कि लड़कियां कितनी कीमती हैं।ह ग्रुप हर शनिवार और रविवार को गरीब बच्चियों को पढ़ाने के लिए अलग-अलग इलाकों में कैम्प करती हैं और लोगों को समझाती हैं कि लड़कियां कितनी कीमती हैं।
2016 में इन बाइकर्स ने सूरत से सिंगापुर का सफर बाइक से किया था2016 में इन बाइकर्स ने सूरत से सिंगापुर का सफर बाइक से किया था
इनका मकसद पूरे भारत को “बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ” और सशक्त नारी की जागृति का मैसेज देना है।इनका मकसद पूरे भारत को “बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ” और सशक्त नारी की जागृति का मैसेज देना है।
टीम मेंबर्स।टीम मेंबर्स।
बाइकिंग ग्रुप।बाइकिंग ग्रुप।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..