--Advertisement--

बुजुर्ग ने कलेक्ट्रेट कैम्पस में खुद को लगा ली आग, 7 दिन पहले दी थी ऐसा करने की वार्निंग

कलेक्टर ऑफिस में भारी पुलिस बंदोबस्त के बीच दोनों ने खुद को आग के हवाले किया।

Dainik Bhaskar

Feb 16, 2018, 05:28 AM IST
यह तस्वीर आपको विचलित कर सकती यह तस्वीर आपको विचलित कर सकती

पाटण. गुजरात के पाटण जिले के कलेक्टर कैम्पस में गुरुवार दोपहर 1 बजे दो लोगों ने सरकारी जमीन को अपने नाम करने की मांग को लेकर खुद को जलाने की कोशिश की। हालांकि, उनमें से एक को वहां मौजूद लोगों ने बचा लिया। दूसरा बुरी तरह झुलस गया। उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गुजरात के सोशल जस्टिस एंड एमपॉवरमेंट मिनिस्टर ईश्वर परमार ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

7 दिन पहले दी थी आत्मदाह करने की चेतावनी

भानुभाई एक सोशल एक्टिविस्ट थे और पिछले 3 सालों से समी तहसील के दुदवा गांव में सरकारी जमीन पर दलित परिवार को कब्जा दिलाने के लिए संघर्ष कर रह थे। हफ्तेभर पहले उन्होंने लेटर लिखकर एडमिनिस्ट्रेशन को आत्मदाह करने की चेतावनी भी दी थी। गुरुवार को कलेक्टर ऑफिस में भारी पुलिस बंदोबस्त था। फायर ब्रिग्रेड भी बुलवाई गई थी। इसके बावजूद भानुभाई ने खुद को आग लगा ली आत्मदाह करने की कोशिश करने वालों में दुदखा गांव के रहने वाले भानूभाई वणकर 95 फीसदी झुलस गए हैं। जबकि, रामाभाई को लोगों ने बचा लिया।।

पाटण कलेक्टर ने दी मामले में सफाई

वहीं मामले में पाटण कलेक्टर आनंद पटेल ने कहा कि जिस जमीन पर कब्जा मांगा जा रहा है, वह 1955 से सरकार के पास है। सरकार को सिफारिश भेजी गई है। फैसला सरकार को करना है।

X
यह तस्वीर आपको विचलित कर सकती यह तस्वीर आपको विचलित कर सकती
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..