Hindi News »Gujarat »Surat» Metro Rail In Ahamdabad Till Next Year

अहमदाबाद में 6.33 किमी लंबे इलाके में दौड़ेगी मेट्रो, 2019 तक पूरा हो जाएगा काम

एपेरेल पार्क से शाहपुर के बीच 6.33 किलोमीटर लंबे इलाके में मेट्रो के लिए स्पेशल टनल बनाया जाएगा।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 01, 2018, 06:17 AM IST

अहमदाबाद में 6.33 किमी लंबे इलाके में दौड़ेगी मेट्रो, 2019 तक पूरा हो जाएगा काम

अहमदाबाद.अहमदाबाद वासी 2018 के नए वर्ष में मेट्रो ट्रेन के दौड़ने का आनंद उठा सकेंगे। ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर में वस्त्राल से थलतेज तक और नॉर्थ-साउथ कॉरिडोर में एपीएमसी से मोटेरा के बीच मेट्रो ट्रेन दौड़ाने का आयोजन किया गया है। अक्टूबर-2018 तक सबसे पहली ट्रेन ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर के वस्त्राल से एपेरेल पार्क तक दौड़ाए जाने का दावा मेगा कंपनी ने किया है। जबकि क्रेज-1 का संपूर्ण कार्य 2019 तक पूरा कर लिया जाएगा। एपेरेल पार्क से शाहपुर के बीच 6.33 किलोमीटर लंबे इलाके में मेट्रो दौड़ाने के लिए स्पेशल टनल बनाया जाएगा।

नॉर्थ-साउथ कॉरिडोर में कुल 15 एलिवेटेड स्टेशन

- मेट्रो के ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर में 13 एलिवेटेड स्टेशन, 4 स्टेशन टनल में बनाए जाएंगे। नॉर्थ-साउथ कॉरिडोर में कुल 15 एलिवेटेड स्टेशन बनाए जाएंगे। एपेरेल पार्क तथा ग्यासपुर में डिपो और मेंटेनेंस डिपो बनाए जाएंगे। - अक्टूबर 2018 तक वस्त्राल से एपेरेल पार्क के बीच मेट्रो दौड़ाने के लिए करीब 60 फीसदी कार्य पूरा कर लिया गया है। एलिवेटेड कॉरिडोर और स्टेशन भी तैयार किए गए हैं।

4.95 सेे 6. 67 लाख लोग प्रतिदिन यात्रा करेंगे

- 10773 करोड़ के खर्चे से कोज-1 में 39.25 किलो मीटर में तैयार होगा

- 10773 करोड़ के खर्चे से कोज-1 में 39.25 किलो मीटर में तैयार होगा

- 6.33 कि.मी. लंबे टनल एपेरेल पार्क से शाह पुर के बीच

- 18.25 कि.मी. लंबे नॉर्थ राउथ एलिवेटेड कॉरिडोर

- 2018 अक्टू.में वस्त्राल से एपेरेल पार्क तक मेट्रो दौड़ाई जाने का दावा

- फोटो- धवल भरवाड

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Surat News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: ahmedabad mein 6.33 kimi lnbe ilaake mein dauड़egai metro, 2019 tak puraa ho jaaegaaa kam
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×