Hindi News »Gujarat »Surat» Missing Boy Found By Police

भूल से ट्रेन में बैठ गया था बच्चा, अगवा कर फिरौती मांगने के शक में फैली सनसनी

निलेश के पिता ने कहा था कि किसी ने फोन कर कहा कि तुम्हारा बेटा हमारे पास है।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 28, 2017, 06:03 AM IST

भूल से ट्रेन में बैठ गया था बच्चा, अगवा कर फिरौती मांगने के शक में फैली सनसनी

ओलपाड(गुजरात). सायण में रहने वाले झारखंड निवासी परिवार का 14 साल के लड़के के लापता हो जाने के बाद फिरौती मांगने की आशंका के चलते सनसनी फैल गई थी। हालांकि, पुलिस ने लापता लड़के को वापी से खोज लाने में सफलता पाई है। लड़का का अपहरण नहीं हुआ था, बल्कि भूल से ट्रेन में बैठने के बाद वापी पहुंच गया। ट्रेन में यात्रा करने वाले यूपी निवासी लोगों की मदद से इस मामले को डिटेन करने में ओलपाड पुलिस को सफलता मिली है। पुलिस ने लड़के को उसके माता-पिता के हवाले कर दिया।

फोन कर कहा कि तुम्हारा बेटा हमारे पास है- पिता
- जानकारी के मुताबिक, सायण टाउन श्याम कृपा रेजिडेंसी में रहने वाले मूल झारखंड के निवासी राजेन्द्र यादव के 14 साल के बेटे निलेश काम खोजने की बात कहकर 22 दिसंबर को घर से निकला और लापता हो गया।

- इस बारे में पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराने पर पुलिस जांच शुरू की थी। निलेश के पिता ने दूसरे दिन पुलिस में कहा कि किसी ने हमारे फोन पर मोबाइल से फोन कर कहा कि तुम्हारा बेटा हमारे पास है।

- पुलिस ने जांच की तो वह नंबर यूपी के धर्मेन्द्र का हैं। इस आधार पर पुलिस जांच करते हुए धर्मेन्द्र को भी पकड़ लाई थी। लेकिन इस मामले में धर्मेन्द्र से कोई ठोस जानकारी नहीं मिल पाई थी।

- उसने बताया कि हमने मस्ती में निलेश के पिता को फोन कर दिया था। 22 तारीख को निलेश के साथ धर्मेन्द्र भी काम की खोज में गया था।

- बाद में काम न मिलने से निलेश के साथ में रेलवे पर देर रात को खाकर अपने घर की ओर निकल गए थे, लेकिन पकड़ में आया धर्मेन्द्र कुछ स्थिर दिमांग काे होने से पुलिस ने निलेश की खोज जारी रखी थी। विविध स्टेशनों पर लगे निलेश के फोटो से पता चलने पर निलेश वापी रेलवे स्टेशन से मिल गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Surat News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: भà¥à¤² सॠà¤à¥à¤°à¥à¤¨ मà¥à¤ à¤&no
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×