--Advertisement--

मोदी का आदेश- 15 अगस्त 2022 को तयशुदा वक्त से एक साल पहले चलाई जाए बुलेट ट्रेन

2023 की जगह गुजरात में 8 स्टेशन बनाए जाने से करीबन 25,000 लोगाें को रोजगार मिलने की कंपनी ने उम्मीद जताई है।

Dainik Bhaskar

Feb 16, 2018, 08:04 AM IST
15 सितंबर 2017 को मोदी ने की थी बुले 15 सितंबर 2017 को मोदी ने की थी बुले

वडोदरा. अहमदाबाद से मुंबई के बीच हाईस्पीड बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट 20123 में पूरा होने वाला था, जो समय से एक साल पहले ही पूरा होगा। आजादी के 75वें वर्ष पर 15 अगस्त को बुलेट ट्रेन चलाने का प्रधानमंत्री मोदी ने आदेश दिया है। हाईस्पीड रेल कार्पोरेशन के अनुसार जून महीने से प्रोजेक्ट का काम ऑन रोड शुरू हो जाएगा। प्रधानमंत्री मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट और बुलेट ट्रेन के संदर्भ में हाईस्पीड रेल कार्पोरेशन द्वारा प्रारंभिक तौर पर खेतों की खुली जगह पर काम शुरू कर दिया जाएगा।

25 हजार लोगाें को रोजगार मिलने की कंपनी ने उम्मीद जताई

2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट से भाजपा को फायदा मिलने की पूरी उम्मीद है। वडोदरा में नवंबर महीने से ही सेम्युलेटर के साथ ट्रेनिंग सेंटर तैयार करने की कवायद शुरू कर दी है। बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट द्वारा 4000 लोगों को परमानेंट नौकरी और 25,000 लोगों को कांट्रेक्ट पर तथा गुजरात में 8 स्टेशन बनाए जाने से करीबन 25,000 लोगाें को रोजगार मिलने की कंपनी ने उम्मीद जताई है।

बुलेट ट्रेन के साथ 4 मीटर का ग्रीन कॉरिडोर डेवलप होगा

बुलेट ट्रेन का पिलर जमीन से 18 मीटर की ऊंचाई पर होगा। पिलर के साथ जमीन पर 4 मीटर चौड़ी रोड बनेगी। यह रोड बुलेट ट्रेन के लिए आपत्ति काल में उपयोगी साबित होगी। अहमदाबाद से मुंबई तक टनल के बीच में रोड बनेगी। इससे एंबुलेंस और फायर आदि को फायदा होगा। इस रोड को बेरिकेटिंग किया जाएगा ताकि पशु या अन्य वाहन अंदर न घुस सकें। ग्रीन कॉरिडोर जहां से गुजरेगी वहां आसपास के गांवों में कट और उपयोग करने की व्यवस्था दी जाएगी।

50 हजार लोगों का स्थानांतरण होगा
अहमदाबाद से मुंबई के बीच बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट में सबसे ज्यादा बिल्डिंग वडोदरा और अहमदाबाद में बाधक बनेंगी। पूरे रूट में 50 हजार से अधिक लोगों का स्थानांतरण किया जाएगा। ट्रैक तैयार होने के बाद इन्हें फिर से स्थापित किया जाएगा। ज्ञातव्य है कि वडोदरा के लालबाग रेलवे ट्रेनिंग एकेडमी से 80 परिवारों का स्थानांतरण किया जाएगा।

बुलेट ट्रेन विकास को और गति देगा
बुलेट ट्रेन में 1.8 लाख करोड़ रुपए का निवेश होगा। जिसमें गुजरात में 84 हजार करोड़ का निवेश होगा। 12 में से 8 स्टेशन गुजरात में बनेंगे। हाईस्पीड रेेल कॉर्पोरेशन ने बताया कि इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलप होने से नया बिजनेस हब बनेगा और गुजरात की इकोनॉमी तेजी से बढ़ेगी।

व्यापार मुहैया कराएगा सीएसआर
हाईस्पीड रेल कॉर्पोरेशन द्वारा प्रोजेक्ट से कितने लोग प्रभावित होंगे, किस प्रकार का सामाजिक बदलाव आएगा इसका सर्वे किया जा रहा है। प्रोजेक्ट से प्रभावित होने वालों को कंपनी द्वारा लघु गृह उद्योग स्थापित करने के लिए मशीन, विद्यार्थियों को स्कॉलरशिप देने पर विचार होगा।

X
15 सितंबर 2017 को मोदी ने की थी बुले15 सितंबर 2017 को मोदी ने की थी बुले
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..