--Advertisement--

नोटबंदी के बाद बैंक में 15 लाख जमा करने वाले 4000 लोगों को नोटिस

नोटिस देकर इनसे रिटर्न टैक्स फाइल करने और सात दिन के अंदर जवाब देने को कहा गया है।

Danik Bhaskar | Mar 10, 2018, 01:56 AM IST

सूरत. 8 नवंबर 2017 को नोटबंदी के बाद बैंक में 10 से 15 लाख रुपए डिपॉजिट करने वालों को इनकम टैक्स (आईटी) विभाग नोटिस जारी कर रहा है। अब तक करीब 4000 लोगों को नोटिस दिए जा चुके हैं। इनमें कई ऐसी महिलाएं भी शामिल हैं, जिन्होंने अपनी बचत के पैसे बैंक में जमा करवाए थे। नोटिस देकर इनसे रिटर्न टैक्स फाइल करने और सात दिन के अंदर जवाब देने को कहा गया है।

चेतावनी दी गई है कि अगर रिटर्न टैक्स नहीं भरा तो 137 प्रतिशत टैक्स भरना पड़ेगा। इनकम का सोर्स आईटी को बताने पर 30 प्रतिशत और नहीं बताने पर 60 प्रतिशत टैक्स भरना पड़ेगा। आईटी ने पहले एक करोड़ रुपए से ज्यादा जमा करने वालों को, उसके बाद पचास लाख से अधिक और फिर 20 लाख से ज्यादा जमा करने वालों को नोटिस दिए थे।

अधिकारी स्पीड पोस्ट से भेज रहे नोटिस
गुरुवार की रात 10 बजे आईटी विभाग के सिस्टम में 10 लाख से अधिक जमा करने वालों की लिस्ट अपलोड की गई। शुक्रवार को अधिकारियों ने स्पीड पोस्ट से नोटिस भेजना शुरू किया। स्क्रुटिनी एसेसमेंट के मामलों में सितंबर से दिसंबर तक नोटिस भेजे जाएंगे।

- बैंक में कुल 1800 करोड़ डिपॉजिट किए गए हैं। 10 हजार लोगों को नोटिस दिए जाएंगे। 200 करोड़ रुपए की ब्लैकमनी होने की आशंका आईटी विभाग जता रहा है। एसेसमेंट जनवरी 2019 से होगा।