सूरत

--Advertisement--

अब लोग घर बैठे मंगा सकते हैं अपनी पसंद का हीरा

इंडियन कमोडिटी एक्सचेंज ने शुरू की घर पर हीरा डिलीवरी करने की सुविधा, एक सेंट के वायदा सौदों का विकल्प भी मौजूद

Danik Bhaskar

Mar 30, 2018, 05:41 AM IST
अयूब अली को हीरे की डिलीवरी कर अयूब अली को हीरे की डिलीवरी कर

सूरत. हीरे के वायदा कारोबार से जुड़े दुनिया के इकलौते एक्सचेंज इंडियन कमोडिटी एक्सचेंज (आईसीईएक्स) ने एक नई पहल की है। आईसीईएक्स के ऑनलाइन कारोबारी प्लेटफॉर्म से उपभोक्ता न सिर्फ अपनी पसंद का हीरा खरीद सकते हैं, बल्कि घर पर डिलीवरी भी मंगा सकते हैं। हाल ही में एक्सचेंज की ओर से चेन्नई के एक खरीदार को उसके घर दो कैरेट हीरे की डिलीवरी की गई। उक्त खरीदार ने मार्च डिलीवरी के लिए वायदा सौदा किया था। मार्च तक एक्सचेंज में एक सेंट हीरे के अनुबंधों के लिए 67.96 कैरेट और 0.50 सेंट के अनुबंधों के लिए 31.81 कैरेट डायमंड की डिलीवरी की जा चुकी है।


सेटलमेंट के तहत दोनों वायदा सौदों के लिए कुल मिलाकर 99.77 कैरेट हीरे की डिलीवरी की गई। हालांकि यह पहला मौका है जब आईसीईएक्स द्वारा किसी खरीदार के घर हीरे की डिलीवरी की गई। चूंकि एक्सचेंज में पूरी पारदर्शिता के साथ सौदे होते हैं, लिहाजा यहां सौदा करनेवाले लोगों का हित पूरी तरह सुरक्षित है। साथ ही घर या दफ्तर में हीरे की डिलीवरी मंगाने पर खरीदार के लिए किसी तरह का कोई जोखिम भी नहीं होता है। आईसीईएक्स के सीईओ संजीत प्रसाद ने कहा कि जैसे-जैसे आम लोग एक्सचेंज से जुड़ते जाएंगे, वैसे-वैसे हीरे की डिलीवरी भी बढ़ती जाएगी।

अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों पर निर्भरता खत्म

जेम्स एंड ज्वेलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल (जीजेईपीसी) के सूरत अध्यक्ष, दिनेश नवाडिया ने कहा कि आईसीईएक्स पर चल रहे वायदा कारोबार से हीरा उद्योग के छोटे कारोबारियों को काफी फायदा हो रहा है। हीरे के भाव में बढ़ोतरी का लाभ छोटे निवेशक भी उठा सकते हैं। सबसे बड़ा लाभ तो यह हुआ कि हीरे के भाव के लिए अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों पर निर्भरता खत्म हो गई है। इसके अलावा हीरा कारोबारी आईसीईएक्स के अनुबंधों को ऋण के लिए सुरक्षा के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं। आईसीईएक्स ने निवेश बाजार में हीरा उद्योग के लिए एक नया मंच दिया है।

मार्च में 4.05 करोड़ रुपए के हुए सौदे
आईसीईएक्स के प्लेटफॉर्म पर 0.50 सेंट और एक सेंट के वायदा सौदों का विकल्प उपलब्ध है। मार्च में हुए सेटलमेंट तक एक्सचेंज में एक सेंट डायमंड के अनुबंधों में 12 लाख 50 हजार 580 लॉट्स के सौदे हुए, जिनका मूल्य 405.6 करोड़ रुपए है।

Click to listen..