--Advertisement--

दोस्त की GF को पाने के लिए नाबालिग ने किया कुछ ऐसा कि ....

एक तरफा प्यार में दोस्त को मारकर केनाल में फेंक दिया, पुलिस के सामने कई बार बदला बयान।

Dainik Bhaskar

Feb 08, 2018, 05:33 PM IST
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

नडियाद-ठासरा। ठासरा तहसील के ओरंगपुरा केनाल से मिले नाबालिग के शव के मामले में आखिर पुलिस ने मृतक के नाबालिग दोस्त को अरेस्ट कर लिया है। पूछताछ में पता चला कि हत्या का आरोपी मृतक की गर्लफ्रेंड से एक तरफा प्यार करता था। उसे पाने के लिए उसने दोस्त को ही मारकर केनाल में फेंक दिया। आरोपी को महेसाणा के जुवेनाइल में भेज दिया गया है। नाबालिग का शव केनाल में मिला…

आेरंगपुर केनाल में 10 दिसम्बर 2017 को एक किशोर का शव मिला। शव के सीने तथा दोनों हाथों पर फ्रेक्चर कर गले वाले हिस्से पर प्रहार के निशान थे। मारने के बाद शव को केनाल में फेंक दिया गया था। यह जानकारी पुलिस जांच में सामने आई। इस मामले में मृतक का दोस्त शुरू से ही शक के दायरे में था। एलसीबी ने अलग-अलग टीम ने मामले की जांच शुरू की थी।

गांव की ही एक किशोरी से था प्यार

17 वर्षीय मृतक साहिल हुसैन खलीफा की हत्या के मामले में उसके गहरे दोस्त पर शुरू से ही शंका था। उससे उसके पिता के उपस्थिति में ही पूछताछ की गई। आखिर में उसने साहिल की हत्या करना कबूला। उसने बताया कि साहिल गांव की जिस किशोरी से प्यार करता था, उसे वह भी प्यार करता था। अपने एकतरफा प्यार को पाने के लिए उसने दोस्त की ही हत्या कर दी।

लकड़ी से प्रहार किया, फिर दबाया गला

दोस्त की गर्लफ्रेंड हत्या के आरोपी को भाव नहीं देती थी। इसलिए उसने सोचा कि साहिल को ही रास्ते से हटा दिया जाए। इसके लिए उसने 10 दिसम्बर 2017 की रात साढ़े 11 बजे जायका होटल में चाय पिलाने के बहाने बुलाया। वहां से वह करीब ही लकड़ी के पुराने पीठे में ले गया। जहां दोनों के बीच तकरार हुई। इस पर तैश में आकर आरोपी ने पहले तो साहिल की गरदन के पास लकड़ी से प्रहार किया। फिर उसका गला दबाकर उसकी हत्या कर दी।

शव को कोठरी में बंद कर चला गया

इसके बाद उसने शव को उठाया और पीठे से थोड़ी ही दूर एक पुरानी इमारत की जर्जर कोठरी में हाथ-पैर बांधकर, मुंह में कपड़ा डालकर वहां से चला गया। दूसरे दिन 11 दिसम्बर को किसी को संदेह न हो, इस दृष्टि से वह साहिल को खोजने में लोगों की मदद करने लगा। उसके बाद रात में वह सुपारी काटने के सरौते को गरम कर साहिल के शव पर कई जगह दाग दिया। ताकि यह बताया जा सके कि साहिल की मौत करंट से हुई है।

शव को ओरंगपुरा की केनाल में डाल दिया

इसके बाद साहिल के शव को उसने ओरंगपुरा की केनाल में डाल दिया। पुलिस ने जब उससे पूछताछ की, तो उसने पुलिस को भी उलझाने की कोशिश की। उसने कई बार अपने बयान बदले। एक ही सवाल का जवाब उसने तीन अधिकारियों को अलग-अलग दिए। आखिर में उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया।

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर
X
प्रतीकात्मक तस्वीरप्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीरप्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीरप्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीरप्रतीकात्मक तस्वीर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..