--Advertisement--

गुजरात: नाराज नितिन पटेल को मनाने की कोशिश, पसंद का मंत्रालय देने का एलान कल मुमकिन

नितिन पटेल को ऑफर देने से लेकर मनाने तक का घटनाक्रम शनिवार रात तक चलता रहा।

Dainik Bhaskar

Dec 31, 2017, 01:00 AM IST
गुजरात कैबिनेट में कद के मुताबिक मंत्रालय नहीं मिलने से डिप्टी सीएम नितिन पटेल खफा हैं।    -फाइल फोटो। गुजरात कैबिनेट में कद के मुताबिक मंत्रालय नहीं मिलने से डिप्टी सीएम नितिन पटेल खफा हैं। -फाइल फोटो।

अहमदाबाद. गुजरात में नई कैबिनेट के शपथ लेने के तीन दिन बाद ही उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल पार्टी से रूठ गए। फाइनेंस और अर्बन डेवलपमेंट डिपार्टमेंट नहीं मिलने पर नाराज नितिन ने चार्ज नहीं संभाला। इसी बीच पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने शनिवार को उन्हें 10 विधायक तोड़कर लाने पर कांग्रेस में गरिमापूर्ण पद दिलाने का ऑफर दिया। नितिन के तेवर देखते हुए शनिवार रात कैबिनेट मंत्रियों की बीजेपी विधायक बाबू जमना के बंगले पर बैठक हुई। यहां डिनर डिप्लोमेसी में पटेल को फाइनेंस मिनिस्ट्री देने पर सहमति बनी। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी इस बारे में सोमवार को एलान कर सकते हैं।

नितिन पटेल की नाराजगी पर क्या बोले हार्दिक?
- शनिवार को पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने सारंगपुर में कहा, ''अगर डिप्टी सीएम नितिन पटेल 10 विधायकों के साथ बीजेपी छोड़ने को तैयार हैं तो कांग्रेस में उन्हें अच्छा पद देने के लिए बात करेंगे। बीजेपी उनका सम्मान नहीं कर रही है तो पार्टी छोड़ देनी चाहिए।''

हार्दिक के ऑफर के बाद चुप्पी तोड़ते हुए क्या बाेले पटेल?

- हार्दिक के कांग्रेस में गरिमापूर्ण पद दिलवाने की बात के कुछ घंटे बाद ही तीन दिन की चुप्पी तोड़ते हुए नितिन पटेल ने कहा कि उन्हें हार्दिक या किसी अन्य से मिलने में कोई परेशानी नहीं है। उन्होंने कहा कि मन की बात आलाकमान के सामने रख दी है। उम्मीद है कि भावनाओं का सम्मान होगा।

- हालांकि, पार्टी छोड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि 40 साल से बीजेपी के लिए मेहनत कर रहा हूं। इसे छोड़ने का सवाल ही नहीं उठता। जो हुआ है वह मान-सम्मान से जुड़ी बात है न कि किसी विभाग से। उन्होंने अन्य विधायकों के साथ पार्टी छोड़ने की चर्चाओं को अफवाह करार दिया। साथ ही कहा कि वह किसी बंद या प्रदर्शन का समर्थन नहीं करते।

नितिन को ऑफर देने से लेकर मनाने तक का घटनाक्रम

- पटेल की नाराजगी को लेकर गुरुवार रात से उठा विवाद शनिवार की रात तक थमता नजर आया। नितिन को ऑफर देने से लेकर मनाने तक का घटनाक्रम शनिवार रात तक चलता रहा।

- नितिन पटेल नाराजगी के बीच दिन भर अपने निजी आवास में समर्थकों से मुलाकात करते रहे। पटेल शाम को दसक्रोई के बीजेपी विधायक बाबू जमना पटेल के रेसीडेंस पर करीब 45 मिनट तक बैठक में मौजूद रहे।

- इसमें बीजेपी आलाकमान की तरफ से एजुकेशन मिनिस्स्टर भूपेन्द्र चूडासमा, रेवेन्यू मिनिस्टर कौशिक पटेल और स्टेट हाेम मिनिस्टर प्रदीपसिंह जाडेजा ने हिस्सा लिया। बैठक के बाद चूडासमा ने कहा कि यह बैठक कामयाब रही है और मामले का हल दो दिन में हो जाएगा।

- उधर, बीजेपी के वडोदरा के मांजलपुर के विधायक योगेश पटेल ने पटेल की नाराजगी को गलत बताया और कहा कि वह खुद सात बार से विधायक हैं पर उन्हें कोई पद नहीं मिला।

सपोर्ट्स बोले- पटेल को गुजरात का आडवाणी नहीं बनने देंगे
सरदार पटेल ग्रुप (एसपीजी) के अध्यक्ष लालजी पटेल ने नितिन पटेल को सीएम बनाने की मांग करते हुए कहा कि आनंदीबेन के बाद उन्हें सीएम बनाना था, लेकिन ऐन वक्त पर उलटफेर हो गया। नितिन के साथ नाइंसाफी हुई। सपोर्ट्स ने कहा कि उन्हें गुजरात का आडवाणी नहीं बनने देंगे।

पटेल के बगावती तेवरों का गुजरात सियासत पर असर

- नितिन पटेल ने पाटीदार आरक्षण आंदोलन के दौरान सरकार की ओर से पास नेता हार्दिक पटेल के खिलाफ मोर्चा संभाला था। वह पास और हार्दिक के सीधे निशाने पर रहे थे। वह पाटीदार बहुल महेसाणा सीट बचाने में तो कामयाब रहे पर उनकी जीत का अंतर पिछली बार से काफी कम हो गया।

- गुजरात असेंबली में मैजारिटी के लिए जरूरी 92 से महज सात ही ज्यादा यानी 99 सीटें जीतकर पिछली बार से कमजोर ढंग से पावर में अाई बीजेपी के लिए पटेल का बगावती तेवर खासी परेशानी पैदा कर सकता है।

पटेल नेता इकट्ठे : दिनभर मुलाकात का दौर चला

- नितिन पटेल से दिनभर पाटीदार नेता मिलते रहे। पूर्व मंत्री नरोत्तम पटेल ने उनसे मिलने के बाद कहा कि पार्टी आलाकमान को नुकसान से बचने के लिए उन्हें जल्द से जल्द मना लेना चाहिए।

- पास छोड़कर बीजेपी में आए केतन पटेल ने कहा कि नितिन पटेल की नाराजगी जायज है और इससे पहले कि कांग्रेस और पास के ऐसे लोग जो राज्य में अशांति फैलाना चाहते हैं, इसका फायदा उठा लें, बीजेपी आलाकमान को - मामले को संभाल लेना चाहिए। उनसे वजु परसाणा, किरीट पटेल, पूर्वीन पटेल समेत कई पाटीदार नेताओं ने मुलाकात की। सरदार पटेल ग्रुप (एसपीजी) के अध्यक्ष लालजी पटेल ने नितिन पटेल को सीएम बनाने की मांग की।

बीजेपी आलाकमान की पूरे मामले पर नजर

- इधर, कांग्रेस के स्टेट स्पोक्सपर्सन मनीष दोषी ने इसे बीजेपी का अंदरूनी मामला बताया है। पटेल को मनाने के लिए उनके कमरे को मुख्यमंत्री जैसा बड़ा बनाया जा रहा है। पटेल को मनाने के लिए बीजेपी के अलावा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लोगों को भी लगाया गया है।

- बीजेपी ने हालांकि अपने सभी नेताओं को कथित तौर पर इस मामले में बयानबाजी नहीं करने की ताकीद की है। एक सीनियर लीडर ने बताया कि बीजेपी आलाकमान की पूरे मामले पर नजर है।

सीएम रूपाणी ने पटेल के बारे में सवाल पर मीडिया से बनाई दूरी

शनिवार सुबह यहां फ्लाॅवर शो का इनॉगरेशन करने आए मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने नितिन पटेल की नाराजगी के बारे में पूछे जाने पर यह कहते हुए मीडिया से दूर चले गए कि मुझसे फ्लाॅवर शो के बारे में ही पूछिए।

आनंदीबेन ने दी नितिन को सीधे आलाकमान से बात करने की सलाह
पूर्व सीएम आनंदीबेन पटेल ने मामले पर कहा कि पार्टी के फैसले को शिरोमान्य करना चाहिए। अगर उन्हें लगता हो कि अन्याय हुआ तो वरिष्ठ नेता के तौर पर सीधे प्रधानमंत्री अथवा बीजेपी अध्यक्ष से बात करनी चाहिए।

कांग्रसी नेता अब भी नितिन को दे रहे पार्टी में आने का ऑफर

कांग्रेस विधायक वीरजी ठुमर ने कहा कि अगर नितिन पटेल 10 से 15 बीजेपी विधायकों के साथ पार्टी छोड दें तो वह कांग्रेस की ओर से उन्हें समर्थन के लिए आलाकमान से बात करेंगे।

3 दिन की चुप्पी तोड़ते हुए नितिन बोले कि उन्हें हार्दिक या किसी और से मिलने में परेशानी नहीं है। 3 दिन की चुप्पी तोड़ते हुए नितिन बोले कि उन्हें हार्दिक या किसी और से मिलने में परेशानी नहीं है।
नितिन पटेल को मनाने के लिए स्वर्णिम संकुल में सीएम के चेम्बर की तरह बड़ा और भव्य चेम्बर तैयार किया जा रहा है। नितिन पटेल को मनाने के लिए स्वर्णिम संकुल में सीएम के चेम्बर की तरह बड़ा और भव्य चेम्बर तैयार किया जा रहा है।
X
गुजरात कैबिनेट में कद के मुताबिक मंत्रालय नहीं मिलने से डिप्टी सीएम नितिन पटेल खफा हैं।    -फाइल फोटो।गुजरात कैबिनेट में कद के मुताबिक मंत्रालय नहीं मिलने से डिप्टी सीएम नितिन पटेल खफा हैं। -फाइल फोटो।
3 दिन की चुप्पी तोड़ते हुए नितिन बोले कि उन्हें हार्दिक या किसी और से मिलने में परेशानी नहीं है।3 दिन की चुप्पी तोड़ते हुए नितिन बोले कि उन्हें हार्दिक या किसी और से मिलने में परेशानी नहीं है।
नितिन पटेल को मनाने के लिए स्वर्णिम संकुल में सीएम के चेम्बर की तरह बड़ा और भव्य चेम्बर तैयार किया जा रहा है।नितिन पटेल को मनाने के लिए स्वर्णिम संकुल में सीएम के चेम्बर की तरह बड़ा और भव्य चेम्बर तैयार किया जा रहा है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..